पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वॉइस सैंपल लिया तो धीरे से बोली, हिंदी में लिखने काे कहा ताे अंग्रेजी लिखने लगी आरती

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस को हैंड राइटिंग और वॉइस रिकॉर्डिंग सैंपल लेने के लिए जिला जेल में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा
  • सूत्रों के अनुसार आरती से जब पलासिया पुलिस सैंपल लेने पहुंची तो वह काफी नाटक करने लगी

इंदौर. हनी ट्रैप गैंग की आरोपी आरती दयाल और श्वेता जैन से हैंड राइटिंग और वॉइस रिकॉर्डिंग सैंपल लेने के लिए पुलिस को जिला जेल में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। जिला जेल सूत्रों के अनुसार आरती से जब पलासिया पुलिस सैंपल लेने पहुंची तो वह काफी नाटक करने लगी। उसे जब अधीक्षक के रूम में लाया गया तो उसने लिखने से इनकार कर दिया। फिर जब उसे हिंदी में लिखने को कहा तो वह अंग्रेजी में लिखने लगी। जब अंग्रेजी में लिखने को कहा तो हिंदी में लिखने लगी।
 
वॉइस रिकॉर्डिंग के लिए आरती को जब बोलने को कहा गया तो वह काफी धीरे-धीरे बोल रही थी। इस पर टीआई ने समझाया कि यदि नहीं बोलेगी तो कोर्ट में यही लिख देंगे कि वह जेल में भी सपोर्ट नहीं कर रही है। इसके बाद आरती ने अपना वॉइस सैंपल दिया। बाद में फिर श्वेता के भी सैंपल लिए गए। दोनों के सैंपल को पुलिस भोपाल भेजेगी। वहां एसआईटी इसका मिलान करवाने के लिए लैब भेजेगी और इसे कोर्ट में तकनीकी सबूत के रूप में रखा जाएगा।

खबरें और भी हैं...