--Advertisement--

पिता की मर्जी के खिलाफ ली थी पुलिस ट्रेनिंग, पहली बार वर्दी में देखा तो गले लगाकर रो पड़े

होमगार्ड प्लाटून कमांडर रुबी यादव 25 लड़कियों को दे रही पुलिस की मुफ्त ट्रेनिंग

Danik Bhaskar | Jun 11, 2018, 02:49 AM IST
25 लड़कियों को दे रही पुलिस की मुफ्त ट्रेनिंग 25 लड़कियों को दे रही पुलिस की मुफ्त ट्रेनिंग

उज्जैन. होमगार्ड में पदस्थ प्लाटून कमांडर रुबी यादव ने परिवार और समाज की सोच बदल ली। रुबी सीहोर के नसरुल्लागंज के मध्यमवर्गीय परिवार की बेटी है। पिता बिजली कंपनी में है। परिवार में तीन बहन और एक भाई है। 2013 में रुबी ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की। पिता रविशंकर यादव ने कहा- पढ़ाई पूरी हो गई, अब तुम्हारे लिए रिश्ता देख रहे हैं। रुबी ने कहा- मुझे शादी नहीं करना, नौकरी करुंगी। पिता नहीं माने। उन्हें मनाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने खाना-पीना छोड़ दिया।

तीन दिन तक खुद को कमरे में बंद रखा। रूबी यादव ने बताया- मां निर्मला ने उन्हें मनाया। फिर ट्रेनिंग पर जाने की इजाजत मिली लेकिन तीन महीने तक पिताजी ने बात नहीं की। एक बार मैं वर्दी पहनकर उनके सामने आई तो वे मुझे देखकर रो पड़े, गले लगा लिया। अब वे खुद ही लोगों से कहने हैं- बेटियों की जल्द शादी मत करो, उन्हें खूब पढ़ाओ, आत्मनिर्भर बनाओ।

रोज सुबह दो घंटे कराती है अभ्यास

- रुबी यादव शहर की जरूरतमंद लड़कियों को रोज सुबह दो घंटे ट्रेनिंग देती है, ताकि वे पुलिस भर्ती में चयनित हो सके।

- कई लड़कियों की शादी रुकवाई, उनके माता-पिता को समझाया कि पहले इन्हें पढ़ाई पूरी करने दें।

प्लाटून कमांडर रुबी यादव प्लाटून कमांडर रुबी यादव