--Advertisement--

धर्म / कनकेश्वरी देवी मंदिर में हुई प्राण प्रतिष्ठा, अक्षरधाम की तर्ज पर 16 साल में बनकर तैयार हुआ है मंदिर



कनकेश्वरी देवी मंदिर। कनकेश्वरी देवी मंदिर।
X
कनकेश्वरी देवी मंदिर।कनकेश्वरी देवी मंदिर।

  • मंदिर का 2002 में काम शुरू हुआ था, जो 2018 में पूरा हुआ है
  • गर्भगृह में लगा है मकराना मार्बल, हवा के लिए 70 खिड़कियां

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 12:21 PM IST

इंदौर. परदेशीपुरा, रेडीमेड कॉम्प्लेक्स के पास स्थित कनकेश्वरी देवी मंदिर में माता की प्राण प्रतिष्ठा भव्य गर्भगृह में हुई। शनिवार को साढ़े 11 बजे के करीब वैदिक मंत्रों के बीच पुजारियों ने प्राण प्रतिष्ठा करवाई।  यह मंदिर अक्षरधाम की तर्ज 16 साल में बनकर तैयार हुआ है।

 

  • मंदिर का 2002 में काम शुरू हुआ था, जो 2018 में पूरा हुआ है।
  • माता की प्रतिमा 2011 में ही जयपुर से इंदौर आ गई थी। मंदिर निर्माण के चलते अब तक प्राण-प्रतिष्ठा नहीं हो सकी थी। प्रतिमा का निर्माण एक ही पत्थर से किया गया है।
  • मंदिर में माता का भव्य गर्भगृह बनाया गया है। इसमें ऊपर की ओर कांच लगाए गए हैं, जिसमें मकराना मार्बल लगाया गया है। इस पर राजस्थान के कारीगरों द्वारा नक्काशी की गई है।
  • मंदिर परिसर 60 हजार वर्गफीट एरिया में फैला है। परिसर में मंदिर के साथ ही गार्डन, फिजियोथैरेपी और जांच सेंटर बना है। मंदिर के अंदर ही आंखों की जांच का सेंटर भी बना है।
  • मंदिर परिसर में ही हरि योग केंद्र और वाचनालय भी है।
  • जमीन से गर्भगृह की पूरी ऊंचाई 90 फीट से ज्यादा है। ध्वजा व कलश के साथ यह ऊंचाई करीब 101 फीट तक होगी।
  • मंदिर में विशाल हॉल है, जिसमें शुद्ध हवा के लिए 70 से ज्यादा खिड़कियां तैयार की गई हैं।
  • मंदिर में अस्थायी हवन स्थान भी बनाया गया है, जहां हवन चल रहा है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..