• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Republic Day 2020; MP CM Kamal Nath, Latest News and Celebration Updates On Madhya Pradesh Indore Republic Day (Gantantra Diwas) 26th January

गणतंत्र दिवस / मुख्यमंत्री ने नेहरू स्टेडियम में किया झंडा वंदन, 2025 तक प्रदेश को देश में नंबर वन प्रदेश बनाना हमारा लक्ष्य

मुख्यमंत्री ने मंच से ही पीड़ितों को प्लॉट के दस्तावेज दिए। मुख्यमंत्री ने मंच से ही पीड़ितों को प्लॉट के दस्तावेज दिए।
सीएम ने नेहरू स्टेडियम में फहराया तिरंगा। सीएम ने नेहरू स्टेडियम में फहराया तिरंगा।
मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इंदौर में आचार्य विद्यासागर जी महाराज से भेंट की। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इंदौर में आचार्य विद्यासागर जी महाराज से भेंट की।
X
मुख्यमंत्री ने मंच से ही पीड़ितों को प्लॉट के दस्तावेज दिए।मुख्यमंत्री ने मंच से ही पीड़ितों को प्लॉट के दस्तावेज दिए।
सीएम ने नेहरू स्टेडियम में फहराया तिरंगा।सीएम ने नेहरू स्टेडियम में फहराया तिरंगा।
मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इंदौर में आचार्य विद्यासागर जी महाराज से भेंट की।मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इंदौर में आचार्य विद्यासागर जी महाराज से भेंट की।

  • मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को किया संबोधित, स्कूली छात्रों और दिव्यांगजनों ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुति
  • मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमने एक साल में अपने 365 वचनों को पूरा किया, 20 लाख किसानों के ऋण माफ किए गए

दैनिक भास्कर

Jan 26, 2020, 01:14 PM IST

इंदौर. प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गणतंत्र दिवस पर रविवार को नेहरू स्टेडियम में झंडा वंदन किया। मुख्यमंत्री ने पहले खुली जीप में सवार होकर परेड का निरीक्षण किया और फिर प्रदेशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारा लक्ष्य 2025 तक प्रदेश को देश में नंबर वन प्रदेश बनाना है। परेड के बाद स्कूली छात्रों दारा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस दौरान किसानों के ऋण माफी योजना, उद्यानिकी खेती झांकी, शिक्षा विभाग झांकी, अंबेडकर गांधी सदभावना की झांकी, लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभाग की झांकी, आदिवासी समाज के पारिवारिक नृत्य, केंद्रीय जेल, मलखम, वन विभाग सहित प्रदेश सरकार द्वरा चलाई जा रही योजनाओं की झांकिया निकाली गई गईं। मुख्यमंत्री ने मंच पर ही गृह निर्माण संस्थानों के पीड़ितों को प्लाॅट और फ्लैट के दस्तावेज सौंपेते हुए प्रशासनिक अधिकारी कर्मचारी सहित पुलिस जवानों को सम्मानित भी किया। 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमने एक साल में अपने 365 वचनों को पूरा किया है। गांधी जी ने कहा था कि जब भी हमें कार्य करने में बाधा आए तो एक कसौटी करना चाहिए। समाज के अंतिम छोर तक बैठे व्यक्ति को लाभ मिले, इसी को ध्यान में रख हम कार्य कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य 2025 तक प्रदेश को देश में नंबर वन प्रदेश बनाना है। मध्यप्रदेश 75 प्रतिशत आबादी खेती पर निर्भर है। फसल अच्छी होगी तो सभी को लाभ होगा। उत्पादक को कम से कम नुकसान हो, किसानों को उनके उत्पाद का सही मूल्य मिल सके, इसी को लेकर हमने किसानों का कर्ज कम करने के लिए ऋण माफ किए हैं। 


प्रदेश में नए गोदाम बनाए जाएंगे
20 लाख किसानों के ऋण माफ किए गए हैं। ऋण माफी का दूसरा चरण चालू हो गया है। किसानों को उपज का सही मूल्य मिले खेती पर होने वाले खर्चों में किसानों को मंडियों से सही दाम मिले, इसको लेकर कार्य किया जा रहा है। खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए सरकार कार्य कर रही है। इसको लेकर प्रदेश में भंडारण क्षमता बढ़ाई जाएगी। प्रदेश में नए गोदाम बनाए जाएंगे, वहीं पुराने गोदामों का कायाकल्प किया जाएगा।

इंदिरा गृह योजना से एक करोड़ लोग लाभांवित हुए
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि इस साल नर्मदा घाटी को लेकर हमने लक्ष्य बनाया है। प्रदेश को नर्मदा का पानी पूरा मिले। किसानों के 10 हार्स पावर के पंप के बिजली बिल आधे किए हैं, जिससे किसानों को फायदा मिलेगा। हमने प्रदेश के गरीब परिवारों को भी बिजली सही दर पर मिले इसे लेकर कार्य किए हैं। मुझे यह बताते हुए खुशी है कि इंदिरा गृह योजना से प्रदेश के एक करोड़ लोगों को लाभ मिल रहा है।

70 फीसदी रोजगार युवाओं को देना प्राथमिकता
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश का विकास तभी संभव है, जब युवाओं के हाथ में काम होगा। हमारा ज्यादा से ज्यादा निवेश के साथ यह भी प्रयास है कि लगने वाले नए उद्योगों में 70 प्रतिशत रोजगार प्रदेश के युवाओं को मिले। उद्योगों के लिए हमने कानून को और सरल किया है। उद्योग लगाने के आवेदन की अनुमति सात दिन में मिलेगी। यदि इस अवधित में अनुमति नहीं मिली तो उसे अनुमति मान लिया जाएगा। रियल्टी सेक्टर में रोजगार की अधिक संभावनाएं हैं। सिंगापुर की मदद से हम प्रदेश की आईआईटी को मेगा आईटीआई में परिवर्तित करेंगे। हमारे प्रदेश की अर्थ व्यवस्था में ग्रामीण विकास पर जोर देना आवशक्य है। इसे लेकर सरकार गांव में सड़क, बिजली और इंटरनेट सहित शुद्ध पानी पहुंचाएगी।

40 नदियों के तटों पर वृक्षारोपण कराया जाएगा
प्रदेश में आवासहीनों को आवास देना जरूरी है। इसी लिए मुख्यमंत्री आवास योजना शुरू की है। आवासहीनों को हम शहर में किराए पर मकान देंगे और 15 वर्ष बाद वह मकान उनका हो जाएगा। प्रदेश में 40 नदियों के तटों पर वृक्षारोपण कराया जाएगा। आवारा पशुओं को लेकर हम गौशाला बनाने का काम कर रहे हैं, बहुत जल्द शुरू हो जाएगा। प्रदेश में अनुसूचित जनजाति की संख्या देश में सबसे ज्यादा है। आदिवासी के साहूकारी ऋण माफ करने की घोषणा की थी, इसको लेकर केंद्र सरकार को प्रस्ताव बनाकर भेजा है। आदिवासी परिवार में जन्म होने पर 50 किलो अनाज और मृत्यु पर 100 किलो अनाज सरकार द्वारा दिया जाएगा 

प्रदेशभर में डॉक्टरों की भर्ती की जाएगी
प्रदेश में जब हमारी सरकार बनी थी, तब खजाना खाली था। जीएसटी के कारण प्रदेश के राजस्व में भी कमी आई थी। लोकसभा चुनाव में आचार सहिता के चलते हम तीन महीने तक कुछ काम नहीं कर पाए, लेकिन एक वर्ष में हमने अपने वचनों पर कार्य किया है। हमने माफियाओं पर नकेल कसते हुए माफिया मुक्त मध्यप्रदेश बनाने की और कार्य कर रहे हैं। मिलावटखोरों पर कार्यवाही कर प्रदेश को स्वच्छ प्रदेश बनाने पर कार्य कर रहे हैं। शिक्षा को लेकर शिक्षा विद्वानों को शासकीय स्कूल में रखा जाएगा। प्रदेश में कई वर्षों से डॉक्टर की भर्ती नहीं हुई है। हम डॉक्टर की भर्ती कर प्रदेश के सभी गावों में स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाने पर कार्य कर रहे हैं। हम इंदौर और भोपाल में मेट्रो को लेकर कार्य कर रहे हैं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना