विरोध / केसरबाग रोड पर विरोध हुआ तो स्कूल और तालाब के पास पहुंची शराब दुकान, रहवासियों ने फिर संभाला मोर्चा

Dainik Bhaskar

Apr 11, 2019, 02:20 PM IST



Residents protest against liquor shop on Kesar Bagh road
X
Residents protest against liquor shop on Kesar Bagh road

  • अन्नपूर्णा तालाब से लगी सिटी फाॅरेस्ट की जमीन पर शराब दुकान शिफ्ट करने की तैयारी थी

इंदौर. शहर में दो स्थानों पर शराब दुकानों का विरोध पिछले चार दिनों से जारी है। केसर बाग रोड की दुकान को विरोध के बाद अचानक अन्नपूर्णा तालाब से लगी सिटी फाॅरेस्ट की जमीन पर शिफ्ट करने की तैयारी हो गई। जैसे यहां काम शुरू हुआ रहवासियों ने इसका विरोध शुरू कर दिया। सुबह से ही रहवासी, खासकर महिलाओं ने यहां मोर्चा संभाला और विरोध जताना शुरू कर दिया। 

 

भाजपा नगर उपाध्यक्ष अभिषेक बबलू शर्मा ने भी कार्यकर्ताओं के साथ दुकान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। रहवासियों का कहना था सामने स्कूल है और तालाब के पास की गली में वैसे ही अंधेरा रहता है। कई बार चाकूबाजी की घटनाएं हो चुकी हैं। ऐसे में यहां शराब दुकान खुल गई तो रहवासियों का जीना मुश्किल हो जाएगा। 

 

ह

 

सारी गंदगी तालाब में जाएगी : रहवासियों ने बताया निगम ने दो साल पहले ही तालाब का सौंदर्यीकरण किया है। शाम को 20 से ज्यादा कालोनियों के रहवासी, बुजूर्ग, बच्चें यहां घुमते है ऐसे में शराब दुकान से पूरे क्षेत्र का माहौल खराब हो जाएगा। रहवासी संघ के अनुराग दुबे ने बताया कि किसी भी कीमत में दुकान यहां नहीं खुलने दी जाएगी, फिर चाहे भुख हड़ताल ही क्यों न करना पड़े। गौरतलब है इसके अलावा स्कीम नंबर 54 स्थित मेघदूत गार्डन के सामने की शराब दुकान का भी विरोध जारी है। दुबे ने बताया कि चार साल पहले ही सिटी फारेस्ट की जमीन से खुद प्रशासन और निगम ने निर्माण तोड़े थे। यहां हरियाली तो हो नहीं पाई, शराब दुकान जरूर खुल गई।

COMMENT