--Advertisement--

केंद्रीय मंत्री का बयान / स्मृति ईरानी ने कहा- मी-टू के आरोपों की जांच के बाद कार्रवाई होगी; महिला आरक्षण बिल पर साधी चुप्पी



Smriti Irani answers on Mee too Campan in Indore
X
Smriti Irani answers on Mee too Campan in Indore
  • यह भी कहा- लड़कों संस्कारित करें, ताकि वे महिलाओं का सम्मान करें
  • राजमाता की जयंती पर व्याख्यान एवं कमल शक्ति संवाद कार्यक्रम में शामिल हुईं मंत्री

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 02:00 AM IST

इंदौर. केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार शाम इंदौर में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मी-टू कैंपेन में लगे आरोपों पर कानूनी प्रक्रिया के तहत जांच व कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही ईरानी ने कहा कि सभी महिलाओं को अपने परिवार के लड़कों को संस्कारित करना चाहिए ताकि वे अन्य महिलाओं का सम्मान करें जिससे छेड़छाड़ की घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके।

 

राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 100वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कमल शक्ति संवाद के दौरान महिलाओं के सवालों का जवाब दिया। मी-टू कैंपेन पर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अपने साथ हुए गलत व्यवहार और अपराध के विरुद्ध आवाज उठाना सभी का संवैधानिक अधिकार है। कानूनी प्रक्रिया के तहत पुलिस कार्रवाई करेगी, उन्हें न्याय मिलेगा।

 

महिलाओं के साथ लगातार बढ़ रही छेड़छाड़ व दुष्कर्म की घटनाओं पर पूछे गए सवाल पर केन्द्रीय कपड़ा मंत्री ने कहा कि बालिकाओं के साथ दुष्कर्म करने वाले अपराधियों को मौत की सजा देने का निर्णय सरकार ले चुकी है। परिवर्तन की शुरुआत घर से होती है। अत: हमें अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देना चाहिए। अपने घर के लड़कों को अच्छे संस्कार देंगे तो वह अन्य महिलओं का सम्मान करेंगे।

 

राजघराने से होने के बाद भी आपातकाल में 19 माह एक कोठरी में रही थीं विजयाराजे सिंधिया :  ईरानी ने कहा- राजमाता विजयाराजे सिंधिया ने ही भाजपा में महिला मोर्चा की नींव रखी थी। वे राजघराने की थीं, लेकिन पार्टी के लिए जमीन पर रहकर जो संघर्ष किया। वह अद्भुत था। उनकी नेतृत्व और संगठन क्षमता का ही परिणाम है कि भाजपा ने देश में महिलाओं के बीच सम्मान के साथ जगह बनाई। 


अमर वेंकट हॉल में व्याख्यान एवं कमल शक्ति संवाद कार्यक्रम में ईरानी ने कहा कि राजघराने की होकर भी पार्टी के लिए, देश के लिए उन्होंने 19 माह एक कोठरी में बिताए। राजमाता उन लोगों में से थीं, जिन्होंने पार्टी को बनाने में जीवन समर्पित कर दिया। कार्यक्रम को महापौर मालिनी गौड़, नगर भाजपा अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा और भाजपा महिला मोर्चा की रचना गुप्ता ने भी संबोधित किया।

 

महिला आरक्षण बिल पर कहा- अभी कुछ नहीं कह पाऊंगी

सवाल- लोकसभा में जो महिला आरक्षण बिल पारित हुआ था, अब आगे क्या होगा?
ईरानी : जल्द लागू होगा। हर पार्टी से बात चल रही है। आचार संहिता के कारण ज्यादा कुछ नहीं कह पाऊंगी।
सवाल- महिला सुरक्षा को लेकर क्या सरकार कोई और बड़ा कदम उठा रही है?
ईरानी : केंद्र सरकार 12 साल से कम उम्र की बच्ची से ज्यादती करने वाले आराेपियों को मौत की सजा देने का कानून लाई है। महिलाओं को हर काम पूरी क्षमता से करना चाहिए। शुरुआत छेड़छाड़ से होती है। इसका विरोध करें। पुलिस की मदद लें। परिवार में भी बच्चों को सिखाएं कि महिलाओं को पूरा सम्मान दें।

--Advertisement--
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..