Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Sonali 10 Years Stay In Police Mess In Indore And Telling Sister Of ADG

फर्जी SDM बन लालबत्ती ‌कार से घूमती थी ये लड़की, पुलिस अफसरों को दिखाती थी ऐसा रौब

अफसरों पर रौब झाड़ने वाली सोनाली शर्मा उर्फ सोनिया 2008 में इटारसी में भी ऐसा ही कारनामा कर चुकी है।

bhaskar news | Last Modified - May 03, 2018, 02:49 AM IST

फर्जी SDM बन लालबत्ती ‌कार से घूमती थी ये लड़की, पुलिस अफसरों को दिखाती थी ऐसा रौब

इंदौर.खुद को एडीजी की बहन बताकर ऑफिसर्स मैस में मेहमान बनकर रहने और पुलिस अफसरों पर रौब झाड़ने वाली सोनाली शर्मा उर्फ सोनिया 2008 में इटारसी में भी ऐसा ही कारनामा कर चुकी है। वहां एसडीएम बनकर लालबत्ती की कार में घूमने और लाेगों पर धौंस जमाने के मामले में उस पर केस दर्ज है।

- इधर, तेजाजी नगर में करोड़ों की जमीन के मामले में टीआई को धमकाने और सदर बाजार थाने में भी एडीजी का हवाला देकर दबाव बनाने के मामले में उस पर केस दर्ज किया है।

- पुलिस ने बुधवार को सोनाली और उसके बाॅयफ्रेंड कृष्णा राठौर को काेर्ट में पेश किया, जहां से तीन दिन की रिमांड मिली है।

- डीआईजी ने उसे ड्राइवर मुहैया करवाने वाले डीआरपी लाइन के आरआई अिनल कुमार रॉय को सस्पेंड कर दिया है।

ऐसे पकड़ में आई अपने आपको एडीजी की बहन बताने वाली सोनाली
- पुलिस सूत्रों के मुताबिक मामले का खुलासा खुद एडीजी अजय कुमार शर्मा ने किया। दो दिन पहले जब सोनाली पोलोग्राउंड स्थित मैस में ठहरी थी, तब एक पार्टी में शामिल होने के लिए उसने पूर्वी क्षेत्र के दो टीआई को फोन लगाकर बुके भेजने को कहा।

- एक टीआई ने इनकार किया तो सोनाली ने सीएसपी ज्याेति उमठ को उनकी शिकायत कर दी। सीएसपी ने फिर टीआई को फोन किया ताे टीआई ने सीधे एडीजी को घटना की जानकारी दे दी।

- जब टीआई ने एडीजी को कहा कि सर, व्यस्त होने से आपकी बहन को बुके नहीं पहुंचा पाऊंगा। इस पर एडीजी चौंक गए और बोले- वहां मेरी कोई बहन नहीं रुकी है।

- एडीजी ने सीएसपी उमठ को तत्काल मैस भेजा और कहा- उससे पूछें कि प्रदेश में शर्मा सरनेम वाले चार एडीजी हैं, वह किसकी बहन है।

- सीएसपी ने जब सोनाली से पूछा कि तुम किसकी बहन हो तो बोली- इंदौर वाले अजय भैया की। मामला समझते ही सीएसपी ने तुरंत उसे हिरासत में ले लिया।

एक अफसर के जरिए दूसरे से दोस्ती गांठी, इसलिए नहीं हुआ शक
- इस शातिर युवती ने 2008 में रिटायर्ड लोकायुक्त डीजी कापदेव से पहली मुलाकात का फायदा उठाकर कई पुलिस अफसरों से मेलजोल बढ़ाया और गहरी दाेस्ती गांठ ली।

- एक अफसर के जरिए दूसरे से मिलते-मिलते उसकी पैठ पुलिस मुख्यालय तक हो गई। इससे उस पर किसी को शक नहीं हुआ।

- एडीजी की बहन बताकर ही उसकी मुलाकात सीएसपी ज्योति उमठ से हुई और एडीजी पवन श्रीवास्तव से संपर्क भी इसी झूठ से हुआ।

- मैस में रुकने के साथ वह रौब दिखाकर वाहन, गार्ड की सुिवधा भी लेने लगी। पोलोग्राउंड मैस में वह रिकॉर्ड के मुताबिक 10 साल में 13 बार रुकी।

- अनाधिकृत रूप से उसके 25 बार यहां आने की खबर है। इधर, देर रात इंदौर पुलिस की एक टीम सोनाली के भोपाल स्थित घर पहुंची।


दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×