--Advertisement--

आवारा कुत्तों की समस्या को लेकर कांग्रेस ने हाईकोर्ट में दायर की याचिका

नगर निगम पर लगाए अारोप, हर दिन 100 से ज्यादा लोग हो रहे शिकार

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 03:39 PM IST

इंदौर. शहर में लगातार बढ़ती आवारा कुत्ताें की समस्या को लेकर कांग्रेस ने मप्र हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ में याचिका दायर की है। याचिकाा में कांग्रेस ने नगर निगम पर आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रतिदिन 100 से अधिक लोग आवारा कुत्तों का शिकार हो रहे हैं इसके बावजूद निगम ने इस समस्या से निपटने के लिए कोई योजना तैयार नहीं की है।


नगर निगम की नेता प्रतिपक्ष फौजिया अलीम की तरफ से एडवोकेट अंशुमन श्रीवास्तव ने यह याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि शहर में आवारा कुत्तों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इस संबंध में कांग्रेस ने महापौर और निगमायुक्त से पिछले तीन साल से मांग कर रही है कि डॉग हाउस बनाकर आवारा कुत्तों को वहां रखा जाए, लेकिन इस संबंध में निगम ने आज तक कोई कदम नहीं उठाया।


हर माह 2800 मामले
शहर में कुत्तों द्वारा काटे जाने के मामले भी बढ़ते जा रहे है। याचिका के अनुसार हर माह 2800 से अधिक लोग आवारा कुत्तों का शिकार हो रहे है। इस हिसाब से हर दिन लगभग 100 लोगों को कुत्ते काटकर जख्मी कर रहे है।

सिर्फ एक अस्पताल में उपचार
कांग्रेस का कहना है कि कुत्तों द्वारा काटे जाने पर शहर में सिर्फ एक सरकारी अस्पताल हुकुमचंद पॉली क्लिनिक (लाल अस्पताल) में ही उपचार उपलब्ध है। यहां भी पर्याप्त मात्रा में वैक्सिन उपलब्ध नहीं है इसके चलते पीड़ित व्यक्तियों को प्रायवेट अस्पतालों में महंगी कीमत पर उपचार कराना पड़ रहा है।


नसबंदी के बावजूद बढ़ रही आबादी
नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि आवारा कुत्तों को रेबीज के टीके लगाने के साथ ही उनकी नसबंदी भी की जा रही है। अधिकारियों का कहना है कि इन्हें मारा नहीं जा सकता और ना ही कहीं छोड़ा जा सकता है। कुत्तों की नसबंदी के बावजूद शहर में इनकी संख्या लगातार बढ़ने से इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि नसबंदी का यह काम सिर्फ कागजों पर किया जा रहा है।