Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» The Villagers Had Kept Ready To Garland Of Shoes Wear BJP Legislator

भाजपा विधायक को पहनाने के लिए ग्रामीणों ने तैयार रखी थी जूतों की माला, पुलिस ने की जब्त, ग्रामीणों की नाराजगी देख लौटे विधायक

देपालपुर के भाजपा विधायक मनोज पटेल की विकास यात्रा का खरसोड़ा गांव में हुआ जमकर विरोध।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 11, 2018, 12:45 PM IST

  • भाजपा विधायक को पहनाने के लिए ग्रामीणों ने तैयार रखी थी जूतों की माला, पुलिस ने की जब्त, ग्रामीणों की नाराजगी देख लौटे विधायक
    +2और स्लाइड देखें
    विधायक को पहनाने के लिए तैयार की थी माला।

    इंदौर। किसानों को साधने में लगी भाजपा को जोरदार विरोध का सामना करना पड़ रहा है। भाजपा की विकास यात्रा लेकर खरसोड़ा गांव पहुंचे देपालपुर विधायक मनोज पटेल का ग्रामीणों ने जोरदार विरोध किया। विधायक को पहनाने के लिए जूतों की माला तैयार की गई थी जिसे पुलिस ने पहले ही जब्त कर लिया। घटना का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।


    पुलिस ने जब्त कर ली माला
    - लगभग 500 व्यक्तियों की आबादी वाला खरसोड़ा गुर्जर बहुल गांव है। खास बात यह है कि गांव के अधिकांश वोटर्स भाजपा के समर्थक है लेकिन गांव में विकास कार्य नहीं होने से वह भाजपा से काफी नाराज है। रविवार शाम विधायक मनोज पटेल विकास यात्रा के तहत खरसोड़ा गांव पहुंचे थे। विधायक को पहनाने के लिए गांववालों ने जूतों की माला बनाई थी। इसकी खबर पुलिस के साथ ही भाजपा के नेताओं को लग गई। इसके चलते विधायक के गांव में पहुंचने से पहले ही पुलिस वहां पहुंच गई और जूतों की माला को जब्त कर लिया गया।


    विरोध किया तो अच्छा नहीं होगा...
    ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस व भाजपा के कुछ नेेताओं ने गांववालों को लगभग धमकाते हुए कहा था कि भाजपा का विरोध किया तो परीणाम अच्छे नहीं होंगे। इसके बावजूद ग्रामीणों ने कहा कि हमारे गांव में कुछ विकास नहीं हुआ तो हम विकास यात्रा का स्वागत क्यों करें हम तो विरोध ही करेंगे।


    बगैर जवाब दिए चले गए विधायक
    कुछ देर बाद जब विधायक गांववालों के मध्य पहुंचे तो गांववालों ने विधायक से कहा कि आप तो चुनाव जीतने के बाद गायब ही हो जाते हो, इस पर विधायक ने कहा कि आप जब चाहे मुझे बुला सकते है। ग्रामीणों ने विकास कार्य नहीं होने का मुद्दा उठाया इस पर विधायक ने कहा कि मुख्य सड़क बनी तो है इस पर गांव वालों का कहना था कि वह तो पांच साल पहले की बनी है गांव के अंदर तो हालत खराब है। गांववालों का विरोध देख विधायक उनके सवालों क जवाब दिए बगैर आगे बढ़ गए। यह देख ग्रामीणों ने विधायक मुर्दाबाद के नारे लगाना प्रारंभ कर दिए।


    विकास के नाम पर कुछ नहीं हुआ
    खरसोड़ा गांव के दिलीप गुर्जर, जितेन्द्र गुर्जर, विक्रमसिंह गुर्जर, भरत गुर्जर, अंतिम गुर्जर आदि का कहना है कि विधायक पिछले चार साल में पहली बार गांव आए है। गांव में न सड़क है ना बिजली और ना ही पानी। बारिश के मौसम में कीचड़ व जल भराव से गांव का संपर्क आसपास के अन्य गांवों से टूट जाता है। इस संबध में कई बार विधायक मोहदय को आवेदन दिया लेकिन किसी भी नेेता ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।

  • भाजपा विधायक को पहनाने के लिए ग्रामीणों ने तैयार रखी थी जूतों की माला, पुलिस ने की जब्त, ग्रामीणों की नाराजगी देख लौटे विधायक
    +2और स्लाइड देखें
    गांव में विकास कार्य नहीं होने से नाराज ग्रामीण।
  • भाजपा विधायक को पहनाने के लिए ग्रामीणों ने तैयार रखी थी जूतों की माला, पुलिस ने की जब्त, ग्रामीणों की नाराजगी देख लौटे विधायक
    +2और स्लाइड देखें
    नाराज ग्रामीणों से चर्चा करते विधायक मनोज पटेल।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×