मप्र / महू को अब मुंबई से मिली ट्रेन कनेक्टिविटी, 19 अक्टूबर से शुरू होगी बांद्रा से महू की ट्रेन



Train connectivity from Mumbai to Mhow starts from October 19
X
Train connectivity from Mumbai to Mhow starts from October 19

  •  एक माह के लिए रेलवे ने चलाई स्पेशल ट्रेन, महू से बांद्रा के बीच 10 फेरे लगेंगे

Dainik Bhaskar

Oct 10, 2019, 07:24 AM IST

महू/इंदौर . रेलवे द्वारा लगातार डाॅ. आंबेडकर नगर महू को लंबी दूरी की ट्रेनों की सौगात दी जा रही है। अब रेलवे ने बेंगलुरू, भोपाल इंटरसिटी, मालवा एक्सप्रेस, रीवा जैसी ट्रेनों के बाद एक माह के लिए महू से बांद्रा टर्मिनस (मुंबई) तक स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। यह ट्रेन साप्ताहिक रहेगी। यह बांद्रा से प्रत्येक शनिवार व डॉ. आंबेडकर नगर महू से प्रत्येक शुक्रवार चलेगी।


रेलवे मुंबई के बांद्रा टर्मिनस से महू के बीच जो ट्रेन शुरू करने वाला है वह 19 अक्टूबर को बांद्रा से चलेगी। इस स्पेशल ट्रेन की सुविधा 16 नवंबर तक रहेगी। यह सप्ताह में एक दिन चलेगी। इसमें बांद्रा से ट्रेन प्रत्येक शनिवार को दोपहर 13.05 बजे करीब चलेगी व अगले दिन शनिवार को सुबह 4.20 बजे करीब महू पहुंचेगी। इसके अलावा महू से प्रत्येक शुक्रवार दोपहर 16.20 बजे चलेगी व अगले दिन शनिवार को सुबह 7.35 बजे बांद्रा पहुंचेगी। इस ट्रेन के चलने से महू से अब मुंबई की सीधी रेल कनेक्टिविटी एक माह के लिए हो जाएगी।

 

 

इन शहरों से मिलेगी कनेक्टिविटी  : इस ट्रेन के शुरू होने से एक माह तक महू को इंदौर, देवास, उज्जैन, रतलाम, दाहोद, गोधरा, वडोदरा, सूरत, वापी व बोरिवली से कनेक्टिविटी मिल जाएगी।

 

ऐसी रहेगी ट्रेन : इस ट्रेन में एसी 2 टीयर, एसी 3 टीयर, शयनयान, द्वितीय श्रेणी के सामान्य डिब्बे तथा पेंट्रीकार रहेगी।

 

रेलवे महू को लंबी दूरी की ट्रेनें तो दे रहा लेकिन स्टेशन पर व्यवस्थित प्लेटफॉर्म अब तक नहीं बना : रेलवे लगातार महू को लंबी दूरी की ट्रेनों की सौगात दे रहा है। लेकिन स्टेशन पर 24 कोच वाली ट्रेन के लिए व्यवस्थित प्लेटफॉर्म का निर्माण नहीं हाे सका है। वर्तमान में ब्रॉडगेज सेक्शन वाले प्लेटफॉर्म पर हालात यह है कि 24 कोच वाली ट्रेन के लिए पूरी तरह से शेड नहीं बना हुआ है। जिसके चलते यात्रियों को प्लेटफॉर्म में खुले आसमान के नीचे खड़ा होना पड़ता है। वर्तमान में यात्रियों को बारिश में सबसे ज्यादा शेड नहीं होने से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

 

सेना व पीथमपुर में काम करने वाले श्रमिकों को ज्यादा राहत : लंबी दूरी की ट्रेनें महू से चलने से सबसे ज्यादा फायदा सेना के लोगों को मिल रहा है। क्योंकि महू में सेना का हैडक्वार्टर होने के साथ ही देशभर से सैनिक पोस्टिंग होकर आते हैं। ऐसे में उन्हें फेस्टिवल सीजन में अपने घर जाने के लिए ट्रेन इंदौर से पकड़ना पड़ती थी। अब महू से ट्रेनें चलने से उन्हें इंदौर नहीं जाना पड़ रहा है। ऐसा ही फायदा पीथमपुर में काम करने वाले श्रमिकों को भी मिल रहा है। यहां भी देशभर के विभिन्न शहरों से श्रमिक कार्यरत है। इन्हें भी त्योहारों के दौरान ट्रेन के लिए इंदौर नहीं जाना पड़ रहा है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना