Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Waiting For The Rain To Wait Now

तेज हवाओं के साथ छाए काले बादल बिना बारिश ही छंटे, बारिश को लेकर बढ़ने लगी चिंता

बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बनने के बाद ही इंदौर में बारिश के आसार बनेंगे। इसमें सप्ताहभर से ज्यादा का समय लग सकता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 12, 2018, 10:52 AM IST

तेज हवाओं के साथ छाए काले बादल बिना बारिश ही छंटे, बारिश को लेकर बढ़ने लगी चिंता

इंदौर. मंगलवार सुबह आसमान पर छाए काले घने बादल और ठंडी हवाओं ने बारिश को लेकर उम्मीदें बढ़ा दी थीं, लेकिन जैसे-जैसे दिन चढ़ा बादल छंटते गए और लोगों के चेहरे पर मायूसी छा गई। बारिश नहीं होने से शहर में जलसंकट गहराने लगा है, ऐसे में यदि बारिश समय पर नहीं हुई तो परेशानी और ज्यादा बढ़ जाएगी। हालांकि मौसम विभाग से आई खबर चिंता बढ़ाने वाली है, क्योंकि अच्छी बारिश के लिए करीब एक सप्ताह का इंतजार करना होगा।

महाराष्ट्र पहुंचकर कमजोर पड़ा सिस्टम, इसलिए बारिश में देरी

- मौसम विभाग ने 13 जून को प्रदेश में मानसून आने की बात कही थी। इस तारीख के हिसाब से मानसून आगे भी बढ़ रहा था। मुंबई में जोरदार बरसने के बाद यह अहमदनगर, विदर्भ की ओर चला गया। महाराष्ट्र पहुंचकर मानसून कमजोर पड़ गया, जिस कारण इसके आगे बढ़ने के आसार नहीं दिख रहे हैं। अब बंगाल की खाड़ी में जब नया सिस्टम बनेगा और वह आगे बढ़ेगा तो बारिश के आसार बनेंगे। इस प्रक्रिया में सप्ताहभर या इससे ज्यादा वक्त भी लग सकता है।

तापमान में बना रहेगा उतार-चढ़ाव

- मौसम विभाग की माने तो सिस्टम कमजोर होने के बावजूद ठंडी हवाओं का दौर जारी रहेगा। वहीं हल्की बारिश की फुहारें भी गिरती रहेंगी। हवा और बारिश की वजह से तापमान में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। ऐसे में तापमान सामान्य या एक-दो डिग्री ज्यादा रहेगा। इस बार प्री-मानसून में शहर में 1 जून से अब तक मात्र 29.7 मिलीमीटर ही बारिश हुई है। यानी 1 इंच और 4 मिलीमीटर।


अधिकतम तापमान सामान्य रहा

- सोमवार को अधिकतम तापमान सामान्य ही रहा। यह 37.4 डिग्री दर्ज किया गया। रविवार रात को न्यूनतम तापमान 26.1 डिग्री होकर सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा दर्ज किया गया।


इन दाे रास्तों से आएगा प्रदेश में मानूसन

1. मुंबई, सूरत, जलगांव, अमरावती, नागपुर, गोंदिया से बालाघाट, सिवनी, छिंदवाड़ा।
2. गुजरात के भरूच से बड़वानी, खरगोन, खंडवा, बैतूल, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला।

ऐसे पता चलता है मानसून आ गया

- करीब तीन किमी ऊपर हवा में 90 फीसदी नमी होना चाहिए।

- मौजूदा हवा का रुख बदलकर दक्षिण-पश्चिमी होना चाहिए।

- एक-दो दिन लगातार बारिश हो।

अभी कहां है मानसून की दस्तक

- मौसम एक्सपर्ट के अनुसार मानसून महाराष्ट्र के रत्नागिरी, कोल्हापुर, नांदेड़, तेलंगाना के आदिलाबाद, छत्तीसगढ़ के बैलाडीला, ओडिसा के मलकानगिरि, कोस्टल यानी समुद्र तटीय आंध्र प्रदेश के कलिंगापट्टम में सक्रिय है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×