मप्र / एक कमरे में हम 10 लड़कियां रहतीं, साहब लोग नशा कर सहेलियों के साथ रुकते

We used to have 10 girls in one room, sir.
We used to have 10 girls in one room, sir.
X
We used to have 10 girls in one room, sir.
We used to have 10 girls in one room, sir.

  • माय होम में आधी रात कलेक्टर-एसएसपी पहुंचे तो युवतियों ने दिखाया नर्क, कहा...
  • बोर्ड पर लिखा- ‘आर्टिस्ट को बख्शीश फेंककर न दें’, मगर खुद उन्हें ऐसे नारकीय हालात में रखते

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 02:06 AM IST

इंदौर . मंगलवार देर रात कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव और एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र भारी बल के साथ होटल माय होम की सर्चिंग करने पहुंचे। वे रेस्क्यू की गई 67 में से 4 लड़कियों को साथ लेकर आए। होटल में पहली मंजिल पर जीतू सोनी का ऑफिस मिला, जिसमें एक खुफिया दरवाजा था, जो बाहर से देखने पर ऐसा लगता था कि दीवार है। तलघर के नीचे भी एक तलघर मिला, जिसमें हॉल बना हुआ है।

वहीं स्टेज पर युवतियां डांस करती थीं। हर हॉल के स्टेज के पास नोटिस लगा था, जिस पर लिखा था- बख्शीश फेंककर न दें, आर्टिस्ट के हाथ में दें, सम्मानित प्रतीत होगा। लड़कियों ने बताया कि उनके कमरों में साहब लोग नशे में सहेलियों को लेकर आते थे और रुकते थे। पूरी होटल में इतनी गंदगी और बदबू थी कि अफसरों को मुंह पर हाथ रखकर चलना पड़ा। हर मंजिल पर लड़कियों के 10 बाय 10 के कमरे थे, जिनमें पार्टिशन कर 10 लड़कियों को रखा जाता था। कमरों में रात को लड़के आ जाते और यहीं शराब पीते।


35 रजिस्ट्रियां जिन कारोबारियों की, उन्हें बयान के लिए बुलाया
एसएसपी ने बताया, सर्चिंग में 35 रजिस्ट्री, नोटरी व कोरे स्टाम्प मिले हैं। रजिस्ट्रियां प्रेरणा रोहित सेठी, सुरभि निखिल कोठारी, पीयूष गोयल, डॉ. मधु छाबड़ा व कारोबारियों के नाम की हैं। इन्हें बयान के लिए बुलाया है।

लाइसेंस से गाना-बजाना भी नहीं हो सकता, लड़कियों ने स्वीकारा- नचाते थे

माय होम में हर फ्लोर पर डांस बार था। एफएल-3 बार लाइसेंस में गीत-संगीत की मंजूरी भी नहीं है। पुलिस जांच में आया कि 67 बार बालाएं बेसमेंट के दो फ्लोर और चार हॉल में आॅर्केस्ट्रा की धुन पर स्टेज पर डांस करती थीं। जो ग्राहक रुपए लुटाता, उनके लिए वे डांस फ्लोर से नीचे भी आ जाती।

जीतू का बंगला सीलिंग की जमीन पर, होगी बेदखली
होटल माय होम पर छापे के बाद फरार कारोबारी जीतू उर्फ जितेंद्र सोनी के कनाड़िया रोड स्थित बंगले को प्रशासन ने अवैध करार दिया है। जांच के बाद इसके सीलिंग की भूमि पर बना होने की पुष्टि हुई। मंगलवार को तहसीलदार ने सोनी के खिलाफ अवैध कब्जे का प्रकरण दर्ज कर नोटिस भेज दिया। सोनी को 5 दिसंबर को पेश होकर जवाब देने को कहा है। प्रशासन ने हाई कोर्ट में कैविएट भी दायर कर दी है। बंगला खजराना की जिस भूमि पर बना है, वह रिकॉर्ड में सीलिंग की है और शासकीय भूमि के रूप में दर्ज है। इस पर बंगला बनाकर अतिक्रमण किया है। अब भू राजस्व संहिता की धारा 248 में बेदखली का नोटिस जारी किया है। 

90 लाख में करोड़ों का बंगला-जमीन पहले अली हुसैन की थी। 1975 में सरकारी घोषित हुई। 2004 में निगम के तत्कालीन सिटी इंजीनियर अशोक बैजल ने खरीदी। सोनी ने यह बंगला करीब 90 लाख में खरीद लिया, जबकि जमीन करोड़ों की है।

28 फ्लैटों पर कब्जा कर गनमैन बैठाए, दी जान से मारने की धमकी

जीतू सोनी, सैय्यद जाफर अली और इरफान कादरी के खिलाफ पुलिस ने मदीना नगर के मोहम्मद अली उस्मानी की रिपोर्ट पर अवैध कब्जा कर धमकाने का केस दर्ज किया है। एसएसपी के मुताबिक, उस्मानी ने कुछ साल पहले लसूड़िया क्षेत्र में होराइजंस ओरसिस ग्रीन पार्क कॉलोनी में 28 फ्लैट बुक करवाए थे। इसके एवज में उनके ग्राहकों, परिचितों ने कॉलोनाइजर निखिल कोठारी को लाखों रुपए जमा करवाए, लेकिन न पजेशन मिला, न ही रजिस्ट्री दी। उलटे सोनी ने सभी को धमकाया और 28 फ्लैटों पर कब्जा कर गनमैन बैठा दिए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना