--Advertisement--

जिला हॉकी संघ ने किया खिलाड़ियों का स्वागत

खेल एवं युवक कल्याण विभाग और जिला हॉकी संघ द्वारा संचालित हॉकी फीडर सेंटर के चार खिलाड़ी मुंबई और कलकत्ता में शहर...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 03:30 AM IST
खेल एवं युवक कल्याण विभाग और जिला हॉकी संघ द्वारा संचालित हॉकी फीडर सेंटर के चार खिलाड़ी मुंबई और कलकत्ता में शहर का नाम रोशन किया हैं। इनमें दो खिलाड़ी मुंबई लीग खेलकर आए और तीसरा शुक्रवार को कलकत्ता लीग मैच खेलने जायेगा।

चौथे खिलाड़ी का चयन सांई हॉस्टल मुंबई के लिए हुआ है। चारों खिलाड़ी का गुरुवार को जिला हॉकी संघ और हॉकी फीडर सेंटर के खिलाड़ियों ने गांधी मैदान पर स्वागत किया। गुरुवार की दोपहर जिला हॉकी संघ के अध्यक्ष सुरेश दुबे ने भी इन खिलाडिय़ों का स्वागत किया और अच्छे प्रदर्शन और उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

चारों खिलाडिय़ों को हॉकी खेल अपने पिता से विरासत में मिला है। इनको गांधी मैदान पर गुरु के रूप में पिता शुरुआती गुर सीखने को मिले। गांधी मैदान पर सीनियर्स खिलाड़ियों से भी इन्होंने प्रशिक्षण प्राप्त किया। जिला हॉकी संघ के मार्गदर्शन और अपने उत्कृष्ट खेल के दम पर देश की नामी प्रतियोगिताओं तक अपनी पहुंच बना ली। हॉकी खिलाड़ी विवियन मार्टिन के पिता मार्टिन मथियास को अपने बेटे पर फख्र है। बेटे ने अपने प्रदर्शन से मुंबई लीग में सबका मनमोह लिया है।

सेंट्रल रेलवे मुंबई की टीम से विवियन के साथ प्रशांत पिता गजेन्द्र तोमर भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर लौटे हैं। दोनों ने 19 फरवरी से 28 फरवरी तक मुंबई लीग में हिस्सा लिया। विवियन भोपाल में बी कॉम की पढ़ाई कर रहे हैं तो प्रशांत खेलने के साथ ही अपनी रोजी दूध बेचकर चलाते हैं। इनके अलावा प्रशांत के भाई विशाल तोमर भी शुक्रवार को कोलकाता लीग इटारसी से रवाना होंगे।

इन दोनों के पिता भी अपने समय के हॉकी खिलाड़ी रहे हैं। गांधी मैदान से निकला एक और खिलाड़ी है जैद खान इनका चयन सांई हॉस्टल मुंबई में हुआ है। जैद हॉकी खिलाड़ी और टेलरिंग का काम करने वाले इदरीश खान के बेटे हैं।

कोच कन्हैया गुरयानी ने बताया कि पिछले कुछ वर्षों से शहर की हॉकी को देश में काफी सम्मान मिल रहा है, यह सब जिला हॉकी संघ के मार्गदर्शन और सहयोग से ही संभव हुआ है।