• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Itarsi
  • Itarsi जिले के साहित्यकारों की जन्मभूमि पर जुड़ेंगे गांधीवादी विचारक, परिजन सुनाएंगे संस्मरण, 2 से निकलेगी यात्रा
--Advertisement--

जिले के साहित्यकारों की जन्मभूमि पर जुड़ेंगे गांधीवादी विचारक, परिजन सुनाएंगे संस्मरण, 2 से निकलेगी यात्रा

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 03:46 AM IST

Itarsi News - महात्मा गांधी के 150वें जन्मोत्सव पर गांधी-150 आयोजन होगा। 2 अक्टूबर से 2 अक्टूबर 2019 तक गांधी दर्शन यात्रा निकाली जाएगी।...

Itarsi - जिले के साहित्यकारों की जन्मभूमि पर जुड़ेंगे गांधीवादी विचारक, परिजन सुनाएंगे संस्मरण, 2 से निकलेगी यात्रा
महात्मा गांधी के 150वें जन्मोत्सव पर गांधी-150 आयोजन होगा। 2 अक्टूबर से 2 अक्टूबर 2019 तक गांधी दर्शन यात्रा निकाली जाएगी। इसमें गांधीवादी विचारक जिले के साहित्यकारों की जन्मभूमि पहुंचेंगे और परिजन संस्मरण सुनाएंगे। बाबई में नव निर्माण डेरिया के घर हुई बैठक में निर्णय लिया गया अन्न स्वराज के नाम से दो दिवसीय आयोजन 5-6 अक्टूबर को होगा।

गांधी-150

महात्मा गांधी की जयंती पर ‘अन्न स्वराज’ का नारा लेकर निकलेगी गांधी विचार यात्रा

5 से 6 अक्टूबर तक जिले में यहां रहेगी यात्रा

5 अक्टूब: बाबई- सुबह 10 बजे यात्रा बाबई पहुंचेगी। माखनलाल चतुर्वेदी की स्मृति संस्मरण पढ़े जाएंगे।

निटाया- दोपहर 1 बजे यात्रा का दूसरा पड़ाव निटाया होगा। यहां बनवारी लाल चौधरी अनुपम मिश्र की कर्मस्थली है।

टिगरिया- शाम 4 बजे यात्रा का तीसरा पड़ाव टिगरिया होगा। भवानी प्रसाद मिश्र की जन्मस्थली पर संस्मरण याद किए जाएंगे।

6 अक्टूबर: दहेड़ी- सुबह 10 बजे यात्रा का पड़ाव विनोवा भावे के सर्वोदयी साथी हरिदास मंजुल की जन्मभूमि पहुंचेगी।

नंदरवाड़ा- दोपहर 1 बजे यात्रा का दूसरा पड़ाव कृषि वैज्ञानिक आरएच रिछारिया की जन्मस्थली होगी।

जमानी- गांधी दर्शन यात्रा का समापन 6 अक्टूबर को हरिशंकर परसाई की जन्मभूमि जमानी में होगा। उनके संस्मरण सुनाए जाएंगे।

पुस्तक का होगा विमोचन

डॉ. केएस उप्पल ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताई। साहित्यकारों की जन्मस्थली पर पहुंचने वाली यात्रा में साहित्यकारों और विशिष्ट जनों के परिजन उपस्थित रहेंगे। गांधी शांति प्रतिष्ठान दिल्ली के अध्यक्ष कुमार प्रशांत, कृषि विशेषज्ञ लेखकर भारत डोगरा उपस्थित रहे। लक्ष्मण केडिया की भवानी प्रसाद मिश्र पर आधारित पुस्तक का विमोचन भी होगा।

X
Itarsi - जिले के साहित्यकारों की जन्मभूमि पर जुड़ेंगे गांधीवादी विचारक, परिजन सुनाएंगे संस्मरण, 2 से निकलेगी यात्रा
Astrology

Recommended

Click to listen..