• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Itarsi News
  • 3 साल से लगे अवैध होर्डिंग्स नहीं हटा पाई नपा, नया नियम आया तो याद आया किराया, अब टेंडर के लिए पंजीयन जरूरी
--Advertisement--

3 साल से लगे अवैध होर्डिंग्स नहीं हटा पाई नपा, नया नियम आया तो याद आया किराया, अब टेंडर के लिए पंजीयन जरूरी

शहर में अवैध होर्डिंग्स तीन वर्ष से लगे हैं। नपा की अनदेखी के चलते होर्डिंग बिना किराया दिए लग गए। मकान मालिकों ने...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:45 AM IST
शहर में अवैध होर्डिंग्स तीन वर्ष से लगे हैं। नपा की अनदेखी के चलते होर्डिंग बिना किराया दिए लग गए। मकान मालिकों ने भी आय बढ़ाने के लिए बिना अनुमति मकान की छत पर होर्डिंग लगवा लिए हैं। प्रशासन होर्डिंग संचालकों पर कार्रवाई नहीं कर रहा। नपा ने विज्ञापनकर्ताओं को पंजीयन कराना अनिवार्य किया है। होर्डिंग्स के टैंडर किए जाएंगे। 6 होर्डिंग संचालकों ने नपा में पंजीयन कराया है।

देर आए दुरुस्त आए

हाईकोर्ट ने हाईवे किनारे और मकानों पर होर्डिंग लगाने पर लगाई थी रोक, 100 से अधिक स्थानों पर लगे हैं होर्डिंग्स

शहर में लगे होर्डिंग अब अवैध।

यहां लगे हैं होर्डिंग: हाईवे पर मंडी गेट से पथरौटा तक मकानों और सड़क किनारे, सिटी थाना से रेलवे स्टेशन तक, स्टेशन से सोनासांवरी नाका, भारत टाॅकीज, एमजीएम कॉलेज रोड, न्यास कॉलोनी, जयस्तंभ चौक, चिकमंलूर चौराहा सहित अन्य स्थानों पर 100 से अधिक होर्डिंग लगे हैं।

हाईवे पर पाबंदी: हाईकोर्ट ने हाईवे पर होर्डिंग लगाने पर रोक लगाई थी। फिर भी हाईवे किनारे और घरों पर होर्डिंग लगाए जा रहे हैं। होर्डिंग की स्वीकृति कुछ दिनों की होती है लेकिन अवधि के बाद भी होर्डिंग लगे रहते हैं।

क्या है नियम

आउटडोर मीडिया डिवाइज नियम 2017 के विज्ञापनकर्ता का नपा में पंजीयन होना अनिवार्य है। उसे 10 हजार रुपए का पंजीयन शुल्क जमा करना होगा। पंजीयन की अवधि तीन वर्ष होगी। तीन वर्ष बाद पुन: नवीनीकरण होगा। विज्ञापनकर्ता का पंजीयन होगा। वहीं होर्डिंग टैंडर प्रक्रिया के लिए पात्र होगा।

नहीं वसूला किराया

नगरपालिका राजस्व विभाग के संजीव श्रीवास्तव ने बताया होर्डिंगों से तीन वर्षों से किराया नहीं वसूला जा रहा है। किराया वसूलने वाले उदयवाल ने बताया 16 होर्डिंग वैध हैं। सीएमओ अक्षत बुंदेला ने कहा सभी होर्डिंग अवैध हैं। पंजीयन प्रकिया जारी है। टैंडर होते ही सभी हटा दिए जाएंगे। घरों पर लगे होर्डिंग का पंजीयन भी किया जाएगा। जिन मकानों पर होर्डिंग लगे हैं। उनसे मकान टैक्स के साथ होर्डिंग का टैक्स भी वसूला जाएगा।