Hindi News »Madhya Pradesh »Jabalpur» Farmer Had To Take Suicidal, Not Found Vehicle, PM To Cottage

किसान ने की खुदकुशी, नहीं मिला वाहन, पीएम के लिए खटिया पर ले जाना पड़ा

शव को अस्पताल ले जाने में स्थानीय प्रशासन के जिम्मेदारों ने भी तंगी दिखाई।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 30, 2017, 08:39 AM IST

  • किसान ने की खुदकुशी, नहीं मिला वाहन, पीएम के लिए खटिया पर ले जाना पड़ा

    टीकमगढ़ (जबलपुर).आर्थिक तंगी से जूझ रहे 28 वर्षीय किसान ने फांसी लगाकर जान दे दी। उसके शव को अस्पताल ले जाने में स्थानीय प्रशासन के जिम्मेदारों ने भी तंगी दिखाई। फलत: परिजनों को खटिया पर शव को पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाना पड़ा। जिला सूखा प्रभावित है। इसके बावजूद अब तक सूखा राहत राशि नहीं बांटी गई है। पृथ्वीपुर थाना अंतर्गत नगर परिषद के वार्ड नं. 10 बरगोला खिरक में गुरुवार रात किसान के 28 वर्षीय पुत्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

    - किसान मिट्ठू कुशवाहा के पुत्र धनीराम ने नीम के पेड़ से फांसी लगाकर जान दे दी। मिटठू कुशवाहा का कहना है कि उसके पास 2 एकड़ जमीन है, जिसमें धनीराम किसानी के साथ मजदूरी भी करता था। सूखा के कारण खेती ठप है।

    - मजदूरी से परिवार का भरण-पोषण नहीं हो पा रहा था। सूखा राहत की राशि भी अभी नहीं मिली है। इसलिए धनीराम ने दिल्ली जाकर मजदूरी करने की इच्छा जाहिर की थी। लेकिन अचानक आत्महत्या कर ली। परिवार में उसकी पत्नी और दो बालक, एक बालिका हैं।


    - हमसे किसी ने भी शव वाहन की मांग नहीं की है। शव को चारपाई पर लाने जानकारी मिली थी। जिसके बाद शव को वापस घर भेजने के लिए वाहन उपलबध कराया गया है।
    डॉ. एमके जैन, ब्लॉक मेडीकल ऑफीसर

    - सूखा राहत राशि के अभी प्रकरण तैयार किए जा रहे हैं। इसके बाद प्रक्रिया के तहत ही राहत राशि का आवंटन किया जाएगा।
    जीएस पटेल, तहसीलदार पृथ्वीपुर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jabalpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×