Hindi News »Madhya Pradesh »Jabalpur» Jeep Collided With School Children Full Of School Children Fell 20 Feet Down

जीप की टक्कर से स्कूली बच्चों से भरी मैजिक 20 फीट नीचे खाई में गिरी, 6 बच्चे घायल

बरगी थाना अंतर्गत बहोरीपार पुलिया के पास स्कूली बच्चों से भरी मैजिक को एक तेज रफ्तार जीप ने टक्कर मार दी।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 11, 2017, 08:15 AM IST

  • जीप की टक्कर से स्कूली बच्चों से भरी मैजिक 20 फीट नीचे खाई में गिरी, 6 बच्चे घायल
    +1और स्लाइड देखें
    जबलपुर .बरगी थाना अंतर्गत बहोरीपार पुलिया के पास स्कूली बच्चों से भरी मैजिक को एक तेज रफ्तार जीप ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि स्कूली बच्चों से भरी मैजिक सड़क के नीचे 20 फीट गहरी खाई में जा गिरी। इस घटना में मैजिक में सवार 6 बच्चे घायल हो गए। एक बच्चे की हालत नाजुक बताई जा रही है। राहगीरों की मदद से घायल बच्चों को मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। घटना के बाद जीप चालक भाग निकला। पुलिस ने जीप चालक की तलाश शुरू कर दी है।
    - पुलिस ने बताया कि शुक्रवार दोपहर 1.30 बजे निगरी निवासी ध्रुवनारायण यादव मैजिक क्रमांक-एमपी-20-टी-7926 में नारायणपुर के केसी मेमोरियल स्कूल से स्कूली बच्चों को लेकर निगरी की तरफ जा रहा था। मैजिक में अतुल श्रीपाल 9 वर्ष, अमन श्रीपाल 7 वर्ष, अंशिका श्रीपाल 5 वर्ष निवासी निगरी, दुर्गेश यादव 7 वर्ष, सागर पटेल 10 वर्ष, विक्की पटेल 10 वर्ष निवासी हर्रई सवार थे।
    - जैसे ही मैजिक बहोरीपार पुलिया के पास पहुंची, सामने से आ रही जीप क्रमांक-एमपी-20-जीए-2993 ने सामने से मैजिक को टक्कर मार दी। जीप की टक्कर से मैजिक सड़क के किनारे 20 फीट गहरी खाई में जा गिरी।
    - खाई में गिरते ही मैजिक में सवार बच्चे घायल हो गए। बच्चे मदद के लिए चिल्लाने लगे। मौके से गुजर रहे राहगीरों ने बच्चों को 108 एम्बुलेन्स से मेडिकल कॉलेज पहुंचाया। घटना के बाद जीप चालक मौके से भाग निकला।
    - दुर्गेश की हालत गंभीर - दुर्घटना में दुर्गेश यादव 7 वर्ष को सिर में गंभीर चोटें आई हैं। दुर्गेश को अस्पताल में भर्ती कर लिया है। इसके अलावा अतुल श्रीपाल, अमन श्रीपाल, अंशिका श्रीपाल, सागर पटेल और विक्की पटेल को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। पुलिस का कहना है कि जीप को जब्त कर लिया है। चालक की तलाश की जा रही है।
    - तेज रफ्तार से निकलते हैं वाहन - बरगी रोड पर स्कूल के समय पर तेज रफ्तार पर वाहन निकलते हैं। पुलिस कर्मी नहीं होने से वाहनों की रफ्तार पर अंकुश लगाने वाला कोई नहीं है। इसकी वजह से यहां पर आए दिन हादसे हो रहे हैं। इसके बाद भी यहां पर पुलिस कर्मियों की तैनाती नहीं की जा रही है।
    - स्कूल वाहनों की नहीं होती जांच - ट्रैफिक पुलिस शहरी क्षेत्र में तो स्कूल वाहनों की जांच करती है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्र में पुलिस स्कूली वाहनों की जांच नहीं करती है। यहां पर नौसिखिया लोग स्कूली वाहन चलाकर बच्चों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।
    - स्कूल प्रबंधन भी वाहन और वाहन चालकों की जांच नहीं करता है। चौंकाने वाली बात यह है कि कोई बड़ा हादसा होने के बाद ही प्रशासन जागता है और कुछ दिन जांच की औपचारिकता की जाती है। इसके बाद सब कुछ पुराने ढर्रे पर चलने लगता है।पी-3
  • जीप की टक्कर से स्कूली बच्चों से भरी मैजिक 20 फीट नीचे खाई में गिरी, 6 बच्चे घायल
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jabalpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×