सतना / 4 साल की मासूम से दुष्कर्म के दोषी को कोर्ट ने 51 दिन में सुनाई फांसी की सजा

Dainik Bhaskar

Sep 19, 2018, 06:33 PM IST



sentenced to deathDeath Penalty of rapist in satna
X
sentenced to deathDeath Penalty of rapist in satna

  • पीड़िता बच्ची का दिल्ली स्थित एम्स में चल रहा है इलाज
  • दुष्कर्म के बाद मरा समझकर बच्ची को छोड़ गया था आरोपी

सतना। परसमनिया में मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म के दोषी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। नागौद कोर्ट के अपर सत्र न्यायाधीश दिनेश कुमार शर्मा ने सिर्फ 51 दिनों तक चले ट्रायल के बाद महेन्द्र सिंह गौड़ को दोषी मानते हुए सजा सुनाई है।दोषी ने चार साल की मासूम के साथ दुष्कर्म किया था। पीड़ित बच्ची का अभी भी दिल्ली एम्स में इलाज चल रहा है।


घटना 30 जून की है। नशे में धुत महेन्द्र सिंह गौंड घर के आंगन से एक चार साल की बच्ची को उठा ले गया। दोषी ने खेत पर ले जाकर बच्ची से दुष्कर्म किया और उसे मरा समझकर वहां से भाग निकला। घटना को अंजाम देने से पहले दोषी युवक रात 10 बजे पीड़ित बच्ची के घर पहुंचा और उसके पिता से बातचीत की।

 

इसके बाद दोषी घर जाने की बात कहकर वहां से चला गया। लेकिन, वह घर के पास ही छिप गया। रात 12 बजे वह घर के आंगन में सो रही मासूम को उठा ले गया। बच्ची जब चारपाई में नहीं मिली तो उसकी तलाश की गई। रात करीब दो बजे बच्ची खेत में गंभीर हालत में मिली थी।

 

बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। यहां से उसे जबलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। बाद में लोगों का आक्रोश बढ़ने के बाद प्रदेश सरकार ने बच्ची को इलाज के लिए एम्स दिल्ली भेज दिया।

COMMENT