पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ई-वालेट बनाकर करोड़ों रुपए की ठगी, झारखंड से पकड़कर लाई जबलपुर पुलिस

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जबलपुर पुलिस की गिरफ्त में आरोपी सौरभ चौबे।
  • सौरभ चौबे उमरिया का रहने वाला है, उसने कितने लोगों को अपना शिकार बनाया है, इसका खुलासा नहीं हो पाया है
  • रुपयों से लग्जरी कार, हीरे की अंगूठी, सोने की चैन, लैपटॉप, महंगे सामान व विदेश यात्रा की अय्याशी मे खर्च कर दी

जबलपुर। ई-वालेट बनाकर करोड़ों रुपए की ठगी करने वाले मोस्ट वांटेड सौरभ चौबे को जबलपुर पुलिस ने झारखंड की राजधानी रांची से गिरफ्तार किया है। शनिवार शाम को आरोपी को जबलपुर लाया गया। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। सौरभ चौबे उमरिया का रहने वाला है। अभी तक उसने कितने लोगों को अपना शिकार बनाया है, इसका खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस आईटी एक्सपर्ट की मदद ले रही है।


सायबर सेल एसपी अंकित शुक्ला ने बताया कि उमरिया का रहने वाला सौरभ चौबे ने एम 2 मनी वॉलेट का ई-वालेट बनाकर करोड़ों रुपए की ठगी की है। इस मामले की शिकायत जबलपुर सायबर सेल पुलिस को मिली जिसपर पुलिस ने मामले की जांच करते हुए आरोपी सौरभ चौबे को झारखंड की राजधानी रांची से गिरफ्तार कर लिया है। 


उन्होंने बताया कि उमरिया के पाली में रहने वाले जयशंकर चौबे का बेटा सौरभ उम्र 24 वर्ष सागर में स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय से माईनिंग विषय में डिप्लोमा कर रहा था, इस दौरान सौरभ ने एमटू मनी नाम के ई वॉलेट से जबलपुर के अनिल सिंह के साथ 6 लाख रुपए की ठगी की। इसके बाद सौरभ चौबे ने पेटीएम और फोन पे जैसे ई वॉलेट बनाकर जल्द ही करोड़पति बनने का रास्ता अख्तियार कर लिया और इंटर्नेट पर ई वॉलेट बनाने वाली सॉफ्टवेयर कंपनी सर्च कर ई वॉलेट बनवाने इंदौर पहुंच गया। इंदौर के एक इंजीनियर से एमटू मनी वॉलेट नाम का वॉलेट डिजायन करवाया। इसके बाद ठगी का कारोबार शुरु कर दिया, लोगों से रुपया जमाकर एक प्रतिशत ब्याज देकर करोड़ों रुपए की ठगी की। 


एसपी अंकित शुक्ला ने बताया कि सौरभ ने ई-वालेट बनवाने के लिए इंदौर के इंजीनियर से संपर्क किया। इंजीनियर ने उसे दस लाख रुपए का खर्च बताया। सौरभ ने ये राशि अपने दोस्तों की मदद से जमा कि और एमटूमनी नाम के वॉलेट को बनवा लिया। सौरभ ने अपने जन्मदिन के दिन एमण्टूण्मनी वॉलेट होस्ट करवाया। इसके साथ सौरभ ने एक नया खेल खेला उसने एमण्टूण्मनी वॉलेट में जमा रुपयों को ब्याज पर देना शुरू कर दिया। इससे लोग लालच में आ गए। 

एसपी अंकित शुक्ला ने बताया कि सौरभ चौबे ने ई वॉलेट के माध्यम से हड़पे रुपयों से लग्जरी कार, हीरे की अंगूठी, सोने की चैन, लैपटॉप, महंगे सामान व विदेश यात्रा की अय्याशी मे खर्च कर दी। उन्होंने बताया कि सौरभ चौबे ने एमटूमनी वॉलेट मे बिजनेस पार्टनर बनाने के नाम पर जिला उमरिया के कई युवाओं एवं अपने ही दोस्तों से पैसे लिये और 2019 मे सौरभ के फरार हो गया। उस पर उमरिया मे ही इस तरह के कई मामले दर्ज हैं। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिवार में प्रॉपर्टी या किसी अन्य मुद्दे को लेकर जो गलतफहमियां चल रही थी आज वह किसी की मध्यस्थता से दूर होंगी। जिसकी वजह से परिवार का माहौल शांतिपूर्ण हो जाएगा। घर में नवीनीकरण या परिवर्तन सं...

और पढ़ें