मप्र / छतरपुर में पांच बेटियां होने पर पति ने पत्नी को घर से निकाला; जनसुनवाई में अधिकारी ने दुत्कारा

छतरपुर में पांच बेटियां होने पर एक मां को उसके पति ने घर से निकाल दिया।
In Chhatarpur, the husband, having five daughters, removed the wife from the house; SDM rebukes in public hearing
In Chhatarpur, the husband, having five daughters, removed the wife from the house; SDM rebukes in public hearing
In Chhatarpur, the husband, having five daughters, removed the wife from the house; SDM rebukes in public hearing
X
In Chhatarpur, the husband, having five daughters, removed the wife from the house; SDM rebukes in public hearing
In Chhatarpur, the husband, having five daughters, removed the wife from the house; SDM rebukes in public hearing
In Chhatarpur, the husband, having five daughters, removed the wife from the house; SDM rebukes in public hearing

  • जनसुनवाई में पहुंची पांच बेटियों की मां ने एसडीएम से रो-रोकर बताई परेशानी, एसडीएम ने नहीं सुनी 
  • एएसपी ने सुनी महिला की फरियाद, नौगांव थाने में पति पर एफआईआर करने के निर्देश दिए 

दैनिक भास्कर

Oct 01, 2019, 07:59 PM IST

छतरपुर. एक ओर जहां पूरा देश नवरात्रि के दौरान कन्या पूजन में लगा है, वहीं छतरपुर में एक पति ने पत्नी को पांच बेटियों समेत घर से निकाल दिया। ये मामला उस वक्त चर्चा में आया, जब मंगलवार को अपनी पांच बेटियों के साथ जनसुनवाई में कलेक्टर से शिकायत करने पहुंचीं। यहां कलेक्टर नहीं मिले तो महिला ने रो-रोकर एसडीएम को समस्या बताई, लेकिन उन्होंने भी महिला दुत्कार दिया। 

 

न्याय की आस में पांच बेटियों के साथ कलेक्टर के पास पहुंची इस महिला को एसडीएम ने बाहर निकाल दिया और महिला के साथ आए वकील से कहा कि इसे अपने साथ ले जाओ।  छतरपुर में महीने भर के अंदर जिले में एक विवाहिता को बेटियों की वजह से घर से निकालने का ये दूसरा मामला है। 

 

जानकारी के मुताबिक, जनसुनवाई में पहुंची महिला मनोज कुशवाहा कलेक्टर के ना मिलने पर एसडीएम केके पाठक के पास पहुंचीं और रो-रो कर अपनी समस्या सुनाई। एसडीएम पाठक महिला को देखकर बिना समस्या सुने वहां से उठकर चले गए। जाते-जाते एसडीएम पाठक ने महिला के साथ आए वकील कह दिया कि इसे अपने घर में रख लो। इसके बाद महिला एसपी ऑफिस चली गई। 

 

मंगलवार को कलेक्टोरेट में जनसुनवाई में पहुंचीं छतरपुर नरसिंहगढ़ पुरवा निवासी युवती ने बताया कि उसकी शादी 12 साल पहले हुई थी। इस दौरान उसने पांच बेटियों को जन्म दिया। जब पांचवीं बार भी बेटी हुई तो पति और ससुराल वालों ने प्रताड़ित कर आज घर से निकाल दिया। 

 

पति दूसरी शादी करना चाहता है 
एएसपी जयराज कुबेर से युवती ने बताया कि शादी 12 साल पहले नौगांव थाना क्षेत्र के लहेरापुरवा में भज्जू उर्फ हरलाल कुशवाह के साथ हुई थी। युवती ने बताया कि शादी के बाद उसे 6 बेटियां हुईं, एक बेटी की मौत हो गई, जबकि पांच बेटियां उसके साथ हैं। बेटा न होने पर उसके पति ने पहले प्रताड़ित किया, इसके बाद घर से बाहर निकाल दिया। पति हरलाल अब दूसरी शादी करना चाहता है, महिला ने रोते हुए बताया कि उसे पांच बेटियां हुई हैं। उसमें उसका क्या कुसूर उसके पास एक भी पैसा नहीं है। पांचों बेटियों को लेकर वह है अब कहां जाए।


एएसपी ने दिए एफआईआर के आदेश 
जहां पर एएसपी जयराज कुबेर ने गंभीरता से लेते हुए नौगांव टीआई को फोन कर महिला के पति के ख्रिलाफ एफआईआर करने के आदेश दिए। एएसपी जयराज कुबेर ने पुलिस लाइन से गाड़ी बुला कर महिला को नौगांव भेजा है। पीड़ित महिला मनोज ने बताया कि उसकी सबसे बड़ी बेटी 10 साल की है जिसका नाम नेहा है, दूसरी उपासना। तीसरी करिश्मा। चौथी बेटी ममता और पांचवी बेटी का नाम मुस्कान है। जो अभी सबसे छोटी है। एक बेटी की बीमारी के कारण मौत हो चुकी है।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना