उपलब्धि / रीवा की लता टंडन ने बनाया कुकिंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड; 72 घंटे तक खाना पकाने वाली दुनिया की पहली शेफ

X

  • लांगेस्ट कुकिंग मैराथन के तहत 3 सितंबर से शुरू की थी खाना पकाना 
  • लता के परफार्मेंस को देखने के लिए एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड के सदस्य मौजूद रहे 

दैनिक भास्कर

Sep 06, 2019, 10:04 PM IST

रीवा. लांगेस्ट कुकिंग मैराथन के तीसरे दिन रीवा की लता टंडन ने सबसे ज्यादा समय तक भोजन पकाने का विश्व रिकॉर्ड बना लिया है। उन्होंने अमेरिका के रिकी लुम्पकिन के 68 घंटे 30 मिनट और 01 सेकंड के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए लगातार 72 घंटे तक खाना पकाने का नया रिकॉर्ड कायम करते हुए दुनिया की पहली मास्टर शेफ बन गई हैं। 


लता टंडन के परफार्मेंस को देखने के लिए शुक्रवार को सुबह इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड और एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की दो सदस्यीय टीम रीवा पहुंच गई थी। इससे पहले ऑनलाइन मॉनिटरिंग इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम कर रही थी। लता ने 72 घंटे तक भोजन पकाने का लक्ष्य रखा था, जिसे शुक्रवार दोपहर 2 बजे पूरा कर लिया। उन्होंने 03 सितंबर को सुबह 9 बजे से भोजन पकाने की शुरुआत की थी। इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग की गई है। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम ने रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट भी मौके पर दे दिया है।

दुनिया की पहली मास्टर शेफ बनीं लता

रीवा की लता टंडन तीन दिन से लगातार भोजन पकाती रहीं। शहर के लोग तीन दिन से उनका उत्साह बढ़ाने के लिए सुबह से लेकर रात तक पहुंचते रहे। लता लगातार 72 घंटे तक भोजन पकाने के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने के बाद शुक्रवार को दोपहर 2 बजे रुकीं। जब उनके 72 घंटे पूरे हो गए। ऐसा करके लता टंडन दुनिया की पहली मास्टर शेफ बन गईं।

लगातार 15 घंटे तक भोजन बनाते-बनाते शरीर में थकावट महसूस हुई तो उन्होंने पहला ब्रेक बुधवार को रात को 12.15 बजे लिया। 15 मिनट तक आराम करने के बाद वह फिर से जुटीं और पूरी रात लगातार भोजन पकाती रहीं। सुबह 5.26 बजे दूसरा ब्रेक पांच मिनट का लिया। इसके बाद 9.31 बजे तीसरा ब्रेक लिया। 

लता टंडन के परफार्मेंस को देखने के लिए तीनों दिन लोगों की भीड़ जुटी रही। सभी ने उनकी हौसला अफजाई की, जिससे वह पूरी ऊर्जा के साथ काम पर जुटी रहीं। शहर के लिए लंबे समय तक भोजन पकाया जाना चर्चा कमें रहा। लोग पूरे परिवार के साथ यह देखने पहुंचते रहे। 

रीवा की शेफ लता टंडन ने एक अनूठी चुनौती स्वीकार की है। उनके परफार्मेंस को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग होटल स्टार पहुंचते रहे। शेफ लता टंडन का उत्साह बढ़ाने के लिए उनके परिवार के लोग हर समय मौजूद रहे। लता ने कहा था कि ये चुनौती वह दिल्ली-मुंबई में भी पूरा कर सकती थीं। लेकिन जब भी इस रिकार्ड की चर्चा होगी तो उसके साथ स्थान का जिक्र भी आएगा, इसलिए रीवा को चुना है।

लांगेस्ट कुकिंग मैराथन की शुरुआत करने से पहले लता ने कहा कि बचपन से ही घर का खाना पकाने में उनकी रुचि रही है। शादी के बाद पति मोहित टंडन और परिवार ने प्रोत्साहित किया। साल 2017 में लंदन गईं और वहां पर ट्रेनिंग ली। 20 हजार मास्टर शेफ के बीच पहली चुनौती स्वीकार की और अंतिम छह में जगह बनाई। करीब नौ महीने तक चली ट्रेनिंग के बाद इंटरनेशनल इंडियन शेफ ऑफ द ईयर-2018 का खिताब भी जीता। 

गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड बनाने के लिए उनके पूरे अभियान की ऑनलाइन मॉनिटरिंग की गई। वीडियो रिकार्डिंग की गई है। हर घंटे के बाद पांच मिनट का ब्रेक दिया गया। मतलब ये कि 60 मिनट का घंटा गिना जाएगा, इसमें पांच मिनट नहीं जुड़ेंगे। रिकार्ड की काउंटिंग सेकेंड में भी की गई है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना