सागर / 30 लाख फिरौती न देने पर किसान के बेटे की हत्या का मामला गरमाया; नेता प्रतिपक्ष ने कहा- मध्यप्रदेश बच्चों के अपहरण में अव्वल

सागर में 8 वीं कक्षा में पढ़ने वाले किसान के बेटे की फिरौती न देने पर हत्या कर दी गई। सागर में 8 वीं कक्षा में पढ़ने वाले किसान के बेटे की फिरौती न देने पर हत्या कर दी गई।
तीन लोगों ने लड़के को अपहरण किया था 30 लाख की फिरौती मांगी थी। तीन लोगों ने लड़के को अपहरण किया था 30 लाख की फिरौती मांगी थी।
बच्चे की सिर कुचलकर कर दी गई हत्या। घर के पास ही मिला शव। बच्चे की सिर कुचलकर कर दी गई हत्या। घर के पास ही मिला शव।
X
सागर में 8 वीं कक्षा में पढ़ने वाले किसान के बेटे की फिरौती न देने पर हत्या कर दी गई।सागर में 8 वीं कक्षा में पढ़ने वाले किसान के बेटे की फिरौती न देने पर हत्या कर दी गई।
तीन लोगों ने लड़के को अपहरण किया था 30 लाख की फिरौती मांगी थी।तीन लोगों ने लड़के को अपहरण किया था 30 लाख की फिरौती मांगी थी।
बच्चे की सिर कुचलकर कर दी गई हत्या। घर के पास ही मिला शव।बच्चे की सिर कुचलकर कर दी गई हत्या। घर के पास ही मिला शव।

  • सागर के सानौधा (खड़ेराभान) में 3 बदमाशों ने 13 साल के अनिकेत को अगवा कर फिरौती मांगी थी
  • परिजन थाने में शिकायत करने पहुंचे तो 30 घंटे बाद बेटे की सिर कुचलकर हत्या कर दी

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 05:35 PM IST

सागर. किसान के 13 साल के बेटे को अगवा करने के बाद फिरौती के 30 लाख रुपए नहीं मिलने पर हत्या का मामला गरमाया गया है। बुधवार को विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने घटना पर दुख जताया। उन्होंने कहा- गरीब माँ-बाप जब फिरौती की रकम नहीं दे पाते तो मासूमों की हत्या कर दी जाती है। सानौधा थाना क्षेत्र के खड़ेराभान गांव के अनिकेत को तीन बदमाशों ने अगवा कर लिया था। परिजन थाने में शिकायत करने गए तो 30 घंटे बाद बच्चे का शव मिलने की जानकारी मिली। इस मामले में बुधवार को भी पुलिस संदिग्धों की तलाश कर रही है, हालांकि किसी को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने गांव पहुंचकर घटना की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम भेजी गई है। कॉल डिटेल्स के आधार पर आरोपियों के बारे में कुछ जानकारी मिली है। वारदात में 3 लोगों के नाम सामने आ रहे हैं जो कि पास के ही गांव के रहने वाले हैं। आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर तलाश की जा रही है। फिरौती मांगे जाने के संबंध में कुछ बिंदुओं पर जांच की जा रही है। 
 

घटना को लेकर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा- 
 

फुल्की खाने गया तभी कर लिया अगवा
खड़ेराभान निवासी सुरेश लोधी का बेटा अनिकेत सोमवार की शाम करीब 7 बजे घर के पास ही दुकान पर फुल्की खाने के लिए गया था। जब वहां से लौटकर नहीं आया तो परिजन उसे आसपास तलाशते रहे। इसके बाद अनिकेत के बड़े भाई के फोन पर एक कॉल आया। फोन करने वाले ने बताया कि अनिकेत उसके कब्जे में है। 30 लाख रुपए की मांग पूरी की जाए। भाई ने आरोपियों की बात अपने पिता से कराई। पिता ने आरोपियों का नाम पूछा तो उन्होंने फोन काट दिया। इसके बाद परिजन रिपोर्ट लिखाने के लिए सानौधा थाने पहुंचे। अनिकेत परसोरिया की प्राइवेट स्कूल में कक्षा 8 वीं में पढ़ता था।


पिता के पास सिर्फ दो एकड़ जमीन 
सुरेश की दो एकड़ जमीन है। इसी जमीन पर खेती-किसानी कर परिवार चलाता है। सुरेश के तीन लड़के और तीन लड़कियां हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना