पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Sankara Sammelan At Central University On Acharya Sankara's Advaita Philosophy; 500 Representatives From India And Abroad Will Come

आचार्य शंकर के अद्वैत दर्शन पर केंद्रीय विश्वविद्यालय में शंकर सम्मेलन; देश-विदेश के 500 प्रतिनिधि आएंगे

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आचार्य शंकर के अद्वैत दर्शन पर होगी चर्चा।
  • जिसमें देश-विदेश के करीब 500 प्रतिनिधि भाग लेंगे

सागर. सागर स्थित केंद्रीय विश्वविद्यालय में आचार्य शंकर के अद्वैत दर्शन को विश्व भर में फैलाने के लिए 8 दिसंबर से तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है, जिसमें देश-विदेश के करीब 500 प्रतिनिधि भाग लेंगे। हरि सिंह गौर केंद्रीय सागर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आरपी तिवारी ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि इस सम्मेलन में ब्रिटेन, अमेरिका, सिंगापुर, न्यूजीलैंड और नेपाल के दर्शन विशेषज्ञ भाग लेंगे। जिन्होंने शंकर के अद्वैत दर्शन पर अध्ययन और कार्य किया है। 


कुलपति आरपी तिवारी ने बताया कि करीब 250 प्रतिनिधि विदेशों में रहने वाले भारतीय मूल के लोग होंगे और करीब 50 विदेशी प्रतिनिधि होंगे। उन्होंने बताया कि सम्मेलन का उद्घाटन स्वामी परमात्मानंद जी करेंगे और श्रृंगेरी के शारदा पीठ के शंकराचार्य वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधन करेंगे। सम्मेलन में 8 सत्र होंगे। संगीत और नृत्य के जरिए भी शंकर के दर्शन को फैलाया जाएगा। 

पूर्व केंद्रीय मंत्री महेश चंद्र शर्मा और लेखक पवन वर्मा भी शिरकत करेंगे 
सम्मेलन में पृर्व संस्कृति मंत्री महेश चंद्र शर्मा, डॉ सतपाल सिंह, पूर्व सांसद एवं लेखक पवन वर्मा, डॉ गुलाब कोठारी, प्रो. कपिल कपूर आदि भाग लेंगे। सुप्रसिद्ध सुधा रघुरामन और प्रख्यात नृत्यांगना सुजाता महापात्र संगीत और नृत्य के जरिए शंकर के दर्शन को प्रचारित करेंगी। इस सम्मलेन के आयोजन में भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान संस्थान भारतीय दर्शन अनुसंधान संस्थान, भारतीय इतिहास अनुसंधान संस्थान के अलावा मध्यप्रदेश संस्कृति विभाग ने भी वित्तीय सहायता प्रदान की है। 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें