--Advertisement--

सतना / कैतों को असलहा देने जा रहे बदमाशों से मुठभेड़, 6 गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2019, 05:04 PM IST


satna news
X
satna news

सतना। तराई के सबसे बड़े इनामी डकैत बबुली कोल की जड़ें खोदने में लगी एमपी और यूपी की पुलिस ने एक ही दिन में 2 बड़े झटके देकर गिरोह को मजबूत करने की कोशिशों पर पलीता लगा दिया है। मानिकपुर पुलिस ने जहां कल्याणपुर के जंगल में मुठभेड़ व सर्चिंग के बाद 6 बदमाशों को गिरफ्तार कर 2 राइफल सहित बड़ी संख्या में असलहा बरामद कर लिया, वहीं बरकच बाबा जंगल में सतना की संयुक्त टीम को देखकर अज्ञात व्यक्ति डकैतों की रसद व दैनिक जरूरत का सामान रास्ते में ही छोड़कर भाग निकला। इस संबंध में चित्रकूट एसपी मनोज झा के मुताबिक सुबह मुखबिर से खबर मिली कि मानिकपुर के कुछ लोग बबुली गिरोह के लिए बंदूक व गोलियां लेकर कल्याणपुर के जंगल की तरफ जा रहे हैं।

 

 

इस सूचना पर मानिकपुर, मारकुंडी, बहिलपुरवा थाना प्रभारियों के साथ एडी दस्ते को घेराबंदी के लिए रवाना कर दिया गया। संयुक्त टीम ने बिना वक्त गंवाए बताई गई जगह पर एम्बुस लगा दिया और बदमाशों का इंतजार करने लगे। कुछ देर बाद ही 2 लोग जंगल के रास्ते पर नजर आए, जिन्हें आत्मसमर्पण के लिए ललकारा गया, पर उन्होंने चेतावनी को अनसुना कर फायरिंग शुरू कर दी, जिसका करारा जवाब पुलिस ने दिया। लगभग 20 मिनट तक जंगल में फायरिंग की आवाज गूंजती रही, फिर बंदूकों के शांत होने के बाद पुलिस टीम ने घेरा बढ़ाते हुए सर्चिंग तेज कर दी। इसी दौरान झाड़ियों की आड़ में छिपे 2 बदमाश पकड़ में आ गए, जिनकी पहचान सुशील पाठक 32 वर्ष व सुनील पाठक उर्फ राजा 30 वर्ष पुत्र स्वर्गीय शिवशरण पाठक निवासी बाल्मीक नगर पश्चिमी थाना मारकुंडी, जिला चित्रकूट के रूप में की गई। सगे भाइयों के कब्जे से 315 बोर की 2 राइफल, 12 बोर की अद्धी, 1 पिस्टल व 315 बोर का तमंचा, थर्टी स्प्रिंग राइफल के 30, 12 बोर के 20 व 315 के 20 जिंदा कारतूस बरामद किए गए।

 

सर्चिंग में मिले 4 सहयोगी: पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ में 4 अन्य सहयोगियों के जंगल में छिपे होने की बात पता चली तो पुलिस ने बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन छेड़ दिया। कई घंटों की मशक्कत के बाद झाड़ियों व चट्टानों के पीछे छिपे आरोपी संजीत सिंह पुत्र स्वर्गीय रणजीत सिंह 58 वर्ष निवासी गढ़चपा, बच्चीलाल राजपूत पुत्र शंकर सिंह 40 वर्ष निवासी भरभखा, मौजीलाल कोल पुत्र स्वर्गीय सुखलाल 45 वर्ष निवासी चुरेह-कसेरूआ और सौखीलाल कोल पुत्र शिवराज 45 वर्ष निवासी बेलहा को पकड़ लिया गया। इनके कब्जे से 315 बोर के 4 तमंचे, 8 जिंदा कारतूस, 3 पैंट व 1 लोवर बरामद किया गया। पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ कर गिरोह के अन्य मददगारों तक पहुंचने के प्रयास किए जा रहे हैं तो हथियार व गोली के श्रोतों की जानकारी भी जुटाई जा रही है। मुठभेड़ के दौरान केसरी नामक युवक घने जंगल का फायदा उठाकर भाग निकला।

Astrology

Recommended

Click to listen..