मप्र / पहाड़गांव के लोग सड़क, बिजली और पानी की समस्या से परेशान, कीचड़ भरे रास्ते से होकर स्कूल जाते हैं बच्चे

छतरपुर। दलदल मची सड़क से निकलते हुए स्कूली बच्चे। छतरपुर। दलदल मची सड़क से निकलते हुए स्कूली बच्चे।
X
छतरपुर। दलदल मची सड़क से निकलते हुए स्कूली बच्चे।छतरपुर। दलदल मची सड़क से निकलते हुए स्कूली बच्चे।

  • लोगों व स्कूली बच्चों को पुरवा से स्कूल व गांव तक पहुंचने के लिये कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है
  • लोगों को रोजाना अपने सारे काम छोड़ कर बच्चों को स्कूल पहुंचने के लिए कंधे पर बैठाकर जाना पड़ता है

दैनिक भास्कर

Oct 12, 2019, 11:46 AM IST

छतरपुर। ईशानगर क्षेत्र में पहाड़गांव के लोग इन दिनों सड़क, बिजली और पानी की समस्या से परेशान है। पहाड़गांव के बरा वाले पुरवा में रहने वाले लोगों के साथ ही स्कूली बच्चों को पुरवा से स्कूल व गांव तक पहुंचने के लिए रास्ते में भरे कीचड़ से हाेकर गुजरना पड़ रहा है।

 

परिजनों को प्रतिदिन बच्चों को स्कूल पहुंचाने के लिए कंधे पर बैठाकर ले जाना पड़ता है। यदि गांव का काेई व्यक्ति बीमार हो जाए तो उसे भी पीठ पर बांध कर ले जाना पड़ता है। गली में कीचड़ इतना है के बाइक को भी निकालना मुश्किल है। ग्रामीणों ने बताया कि इस मार्ग पर पुरातत्व विभाग का प्राचीन शिव मंदिर भी है, जहां जिले भर से लोग दर्शन को आते हैं।

 

हमारे यहां कोई भी सरपंच बने, लेकिन जनता को आज तक पक्की सड़क नहीं बनी, बिजली तो एक सपना सा बनकर रह गई है। तुलसीदास कुशवाहा, रामबाई, धनीराम, विजयकांत विश्वकर्मा, ललिता कुशवाहा, बंदी, निमी मिश्रा सहित सभी ग्रामीणों ने इन समस्याओं का निराकरण करने जिला प्रशासन से कई बार मांग की पर कुछ नहीं हुआ।

 

इस मामले में सरपंच प्रतिनिधि राजेंद्र सिंह बुंदेला का कहना है कि पिछले दिनों पुरवा के लिए सुदूर सड़क का डीपीआर तैयार कराया और गांव तक के रास्ते की नाप भी कराई। पर कुछ प्रभावशाली लोगों की जमीन रास्ते में होने के कारण सड़क का निर्माण नहीं हो सका।

 

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना