--Advertisement--

सफाई दीवारों पर की चित्रकारी, सड़कें भी हुईं साफ

Jaora News - शहर में स्वच्छता सर्वे चल रहा है। अब तक तो टीम को सब ठीक मिला। गुरुवार को होली मनाई गई और शुक्रवार को धुलेंडी मनाई...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 03:35 AM IST
सफाई 
 दीवारों पर की चित्रकारी, सड़कें भी हुईं साफ
शहर में स्वच्छता सर्वे चल रहा है। अब तक तो टीम को सब ठीक मिला। गुरुवार को होली मनाई गई और शुक्रवार को धुलेंडी मनाई जाएगी। इस दिन रंग-गुलाल उड़ेगा। सड़क और नालियां भी खराब होंगी। टीम शुक्रवार को दिनभर सर्वे नहीं करेगी। शनिवार को सर्वे होगा। इसके बाद ही पता चल पाएगा कि निगम अमले के साथ शहरवासी सफाई के लिए कितने सजग हैं। सही मायने में शनिवार को ही नगर निगम अमले के साथ शहरवासियों की परीक्षा होगी। निगम के मुताबिक शुक्रवार सुबह रोज की तरह सफाई की जाएगी।

शहर को स्वच्छता का नंबर देने के लिए स्वच्छ सर्वेक्षण की टीम ने दूसरे दिन गुरुवार को भी शहर की सफाई व्यवस्था जांची। केंद्र से आए टीएम के सदस्य नीतेश सिंह राठौड़ ने गलियों से लेकर सार्वजनिक स्थान, स्कूल और नर्सिंग होम पहुंचे और सफाई व्यवस्था की जांच की। इस दौरान उन्होंने लोगों के साथ ही व्यापारियों से फीडबैक लिया। स्वच्छता का सर्वे 3 मार्च तक चलेगा।

स्वच्छ सर्वेक्षण : अब तक तो सब ठीक मिला, धुलेंडी के बाद होगी सफाई की असली परीक्षा

स्वच्छ सर्वेक्षण की टीम दूसरे दिन 9 घंटे घूमी, सुविधाघर, ओवरब्रिज की सफाई देखी

स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए जावरा फाटक अंडरब्रिज की दीवारों को आकर्षक रूप से सजाया है।

निगम की अच्छी तैयारी मिली है

स्वच्छ सर्वेक्षण टीम के सदस्य नितेश राठौड़ ने बताया दिल्ली से जो भी लोकेशन मिली वहां पहुंचकर सफाई व्यवस्था का जायजा लिया है। कल छुट्टी आ गई है। इससे अब 3 मार्च को आखिरी निरीक्षण किया जाएगा। स्वच्छ भारत मिशन के होर्डिंग्स भी देखे हैं।

सार्वजनिक स्थान, कॉलोनी और ब्रिज, कहां-क्या देखा

1. महू रोड बस स्टैंड- बस स्टैंड के साइड में बने सुविधाघर के दरवाजे खोलकर और नल चालू कर देखे और फोटो क्लिक किए। बाहर आकर एंट्री रजिस्टर चैक किया और फोटो लिया। बाहर निकले तो सफाईकर्मी सुरेश कुमार पूरी यूनिफॉर्म में सफाई करता मिला। उससे चर्चा की और पूछा कितने दिनों से ड्रेस पहन रखी है। जवाब मिला 15 दिन पहले ही ड्रेस मिली है तभी से पहन रखी है। उसका आईडी मांगा और फोटो खींचा। इसके बाद बस स्टैंड के प्रतीक्षालय में पहुंचे। यहां सेनेटरी नेपकिन की मशीन देखी, फिर सुविधाघर को देखा। यहां दिव्यांग, बच्चे, महिला और पुरुष के सुविधाघर में जाकर सफाई देखी।

3. कॉलोनी- महावीरनगर पहुंचे पोस्ट ऑफिस के सामने बने सुविधाघर देखे और फोटो खींचे। यहां थोड़ी ही दूर महिला सफाईकर्मी सफाई कर रही थी। यहां भी फोटो क्लिक किए। आगे पहुंच कॉलोनी की सफाई देखी और कॉलोनी के फोटो खींचे।

4. स्कूल- नवीन कन्या हायर सेकंडरी, गुजराती स्कूल, शासकीय बहुउद्देशीय हायर सेकंडरी स्कूल माणकचौक स्कूल पहुंचे। सभी स्कूलों में सफाई व्यवस्था देखी। क्लास रूम के साथ ही स्वच्छता समिति का गठन हुआ है या नहीं। इसकी जानकारी जुटाई। यहां भी फोटो लिए।

2. जावरा फाटक अंडरब्रिज- दिल बहार चौराहे के पास गाड़ी रोकी और ब्रिज के ऊपर बनी रंगोली का फोटो लिया। वॉल पेटिंग भी देखी। सामने ही घड़ी रिपेयरिंग दुकान संचालक दीपेश परमार के यहां पहुंचे और पूछा सफाई होती या नहीं। इस जवाब मिला एक साल पहले कचरा पड़ा रहता है। अब रोज सफाई होती है। रोज कचरा गाड़ी आती है और सफाई हो रही है।

5. नर्सिंगहोम- आशीर्वाद नर्सिंग होम पहुंचे। यहां की सफाई व्यवस्था देखी। यहां भी स्वच्छता की जानकारी ली। अस्पताल में निकलने वाले कचरे का निष्पादन कैसे किया जाता है और साधारण कचरे का निष्पादन कैसे किया जाता है। यह देखा और चर्चा की।

X
सफाई 
 दीवारों पर की चित्रकारी, सड़कें भी हुईं साफ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..