• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Jaora
  • सभी श्रमिकाें के पंजीयन हाेंगे, सस्ती बिजली मिलेगी
--Advertisement--

सभी श्रमिकाें के पंजीयन हाेंगे, सस्ती बिजली मिलेगी

सभी प्रकार के असंगठित श्रमिकों का सरकारी पंजीयन होगा। नगरीय व ग्रामीण क्षेत्र में पंजीयन का काम शुरू हो चुका है।...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:20 AM IST
सभी प्रकार के असंगठित श्रमिकों का सरकारी पंजीयन होगा। नगरीय व ग्रामीण क्षेत्र में पंजीयन का काम शुरू हो चुका है। अब 1 से 7 अप्रैल तक नगर में डोर-टू-डोर सर्वे किया जाएगा। नगरीय क्षेत्र में नगरपालिका या नगर परिषद पंजीयन करेगी। गांवों में पंचायत में पंजीयन होंगे। जावरा अनुविभाग क्षेत्र में 85 हजार श्रमिकों के पंजीयन का लक्ष्य है लेकिन अब तक 697 पंजीयन ही हुए हैं। प्रोग्रेस कम होने पर शनिवार दोपहर एसडीएम ने जावरा, पिपलौदा जनपद के सीईओ तथा जावरा नपा, पिपलौदा व बड़ावदा नगरपरिषद के सीएमओ को नोटिस देकर दो दिन में लक्ष्य अनुरूप पंजीयन करने के निर्देश दिए। प्रोग्रेस नहीं होने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।

पंजीकृत श्रमिकों को 200 रुपए मासिक फ्लैट रेट पर बिजली मिलेगी। गर्भावस्था के दौरान पौषण आहार तथा प्रसव के दौरान आर्थिक सहायता दी जाएगी। भूमिहिन श्रमिक को भूखंड व मकान तक देने की योजना है। दुर्घटना व सामान्य मौत पर दो से चार लाख रुपए तक का बीमा है। अनुदान पर लोन व स्वरोजगार ऋण में भी प्राथमिकताएं रहेगी। इसलिए ज्यादा से ज्यादा श्रमिकों को इस योजना से जोड़ने का प्रयास चल रहा है। नगरपालिका, जनपद व ग्राम पंचायत स्तर पर कैंप लगाकर पंजीयन करने के साथ ही जहां जरूरी हो वहां पर डोर-टू-डोर सर्वे करने के निर्देश भी है। इसलिए नगरपालिका सीएमओ एपीएस गहरवार ने शनिवार को एक आदेश जारी करते हुए हर वार्ड के लिए टीमें गठित कर दी है। ये 1 से 7 अप्रैल तक पंजीयन की कार्रवाई पूरी कर रिपोर्ट पेश करेंगे।

अनुविभाग क्षेत्र में 85 हजार पंजीयन का लक्ष्य, 697 हुए, कम प्रोग्रेस पर एसडीएम ने सीएमओ-सीईओ को जारी किए नोटिस

सिटी में ही 15 हजार का लक्ष्य, अब तक 133 के ही हुए पंजीयन

नपा कार्यालय में श्रमिक पंजीयन का काम शुरू हो चुका है। अब वार्डवार सर्वे कर पंजीयन किया जाएगा।

नगर में ही 15 हजार असंगठित श्रमिकों के पंजीयन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जनपद क्षेत्र की 68 पंचायतों में सम्मलित 147 गांवों में 34 हजार पंजीयन किए जाना है। पिपलौदा जनपद क्षेत्र में 26 हजार, पिपलौदा नगर परिषद व बड़ावदा नगर परिषद सीमा क्षेत्र में 5-5 हजार पंजीयन का लक्ष्य है। शनिवार तक जावरा जनपद क्षेत्र में 266, पिपलौदा जनपद क्षेत्र में 235, जावरा नपा में 133, बड़ावदा नप में 34 और पिपलौदा नप में 29 पंजीयन ही हो पाए है। एसडीएम वीरसिंह चौहान ने बताया पंजीयन की प्रोग्रेस बहुत कम है। इसलिए इन सभी विभाग प्रमुखों को नोटिस जारी किए है। दो दिन में लक्ष्य अनुरूप पंजीयन के निर्देश दिए है। यदि प्रोग्रेस नहीं मिली तो नियमानुसार कार्रवाई की जा सकती है।