Hindi News »Madhya Pradesh »Jaora» लाखों रुपए लेकर व्यापारी लापता, लोग घर पहुंचे तो ससुर ने प्रॉपर्टी विवाद बताया, रैली निकाली दी

लाखों रुपए लेकर व्यापारी लापता, लोग घर पहुंचे तो ससुर ने प्रॉपर्टी विवाद बताया, रैली निकाली दी

नगर का एक कपड़ा व्यापारी लापता है। उससे 50 से अधिक लोगों को डेढ़ करोड़ से ज्यादा रुपए लेना है। बताया जा रहा है कि उसे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 05:55 AM IST

नगर का एक कपड़ा व्यापारी लापता है। उससे 50 से अधिक लोगों को डेढ़ करोड़ से ज्यादा रुपए लेना है। बताया जा रहा है कि उसे कमोडिटी में नुकसान होने से वह ग्रामीणों से लिए रुपए चुका नहीं पाया। गुरुवार को मांगने वाले उसकी दुकान पर पहुंचे तो व्यापारी के ससुर ने कहा दामाद तो 11 जनवरी से लापता है। हम आपके रुपए देना चाहते है लेकिन दामाद का प्रॉपर्टी विवाद है। वह सुलझने के बाद प्रॉपर्टी बेचकर ही रुपए लौटा पाएंगे दामाद के रिश्तेदार बंटवारा नहीं होने दे रहे हैं इसलिए मामला अटका है। इसके बाद मांगने वाले 30 से अधिक लोगों ने बाजार में व्यापारी परिवार के चारों लोगों के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रैली निकाल दी। इसे लेकर दोनों पक्षों में झड़प हो गई। पुलिस उन्हें थाने ले गई और समझाइश देकर रवाना किया।

जावरा नगर समेत आसपास कई गांवों के 50 से अधिक लोग सेठों की गली निवासी ऋषभ कोचट्‌टा से लाखों रुपए मांगते हैं। 11 जनवरी से ऋषभ का फोन बंद आ रहा है और वह घर से लापता है। गुरुवार दोपहर गोठड़ा निवासी कृष्णपालसिंह, नगर के मोहनलाल गुर्जर, इंदरमल, तंबोलिया के कालूसिंह गुर्जर, नंदावता के चैनराम पाटीदार, मावता के चैनराम व रोजाना के माधुसिंह समेत 30 से अधिक लोग बजाजखाना स्थित ऋषभ कोचट्‌टा की कपड़ा दुकान पर पहुंचे। ऋषभ के ससुर सुभाष जैन निवासी केकड़ी जिला अजमेर (राजस्थान) मिले। रुपए मांगने वालों से सुभाष जैन ने कहा दामाद खुद परेशान है। रुपए मांगने वालों से परेशान होकर वह दो बार सुसाइड की कोशिश कर चुका है। अभी लापता है। फोन भी बंद आ रहा है। दरअसल वह रुपए देना चाहता है और मैं भी यहां यही विवाद सुलझाने आया हूं लेकिन ऋषभ के काका रोड़ा बने हुए हैं। ससुर ने लोगों को बताया कि ऋषभ अपनी बड़े बगीचे के पास की करीब पांच बीघा जमीन बेचकर मांगने वालों के रुपए देना चाहता है लेकिन यह प्रॉपर्टी ऋषभ के साथ काका वीरेंद्र कोचट्‌टा, सुरेंद्र कोचट्‌टा और श्रीपाल कोचट्‌टा के सम्मिलित खाते की है। जब तक बंटवारा नहीं हाेता ऋषभ अपने हिस्से की प्रॉपर्टी नहीं बेच पाएगा। आप लोग हमारा प्रॉपर्टी विवाद सुलझाने में मदद करें। इसके बाद रुपए मांगने वाले लोगों ने चारों व्यापारियों के नाम की तख्तियां बनवाई और गली-गली में शोर है, व्यापारी चोर है के नारे लगाते हुए बाजार में रैली निकाल दी। इनके साथ ऋषभ के ससुर सुभाष जैन भी थे। ये सभी रैली के रूप में कोचट्‌टा उद्यान पहुंचे। वहां वीरेंद्र कोचट्‌टा व उनके दोनों भाइयों की दुकान है नारेबाजी करने लगे। यहीं तनातनी हो गई। हाथापाई तक हुई। सिटी पुलिस पहुंची और दोनों पक्ष को थाने ले गई। थाने में पुलिस ने वीरेंद्र कोचट्‌टा तथा ऋषभ के ससुर सुभाष जैन के बयान लिए। रैली निकालने वाले लोगों को समझाया कि यह सही रास्ता नहीं है। प्रॉपर्टी विवाद को लेकर न्यायालय में जाएं या विभागीय कार्यालय में आवेदन दें। यहां पर भी सुभाष जैन ने वही बात दोहराई जो किसानों को ऋषभ की दुकान पर कही थी। प्रभारी एस.सी. शर्मा ने डांट लगाई तो बाद में सुभाष जैन ने यह कहते हुए माफी मांग ली कि हमें कानून की जानकारी नहीं है। इसलिए रैली निकाल दी।

व्यापारियों के खिलाफ तख्तियों पर नारे लिखकर रैली निकालते हुए ग्रामीण।

हमें बदनाम करने की साजिश,

बंटवारे के लिए ऋषभ ही रोड़ा

थाने में ऋषभ के काका वीरेंद्र कोचट्‌टा ने टीआई शर्मा को कहा कि ऐसी रैली निकालकर हमें बदनाम करने की साजिश हो रही है। इतने लोगों में से किसी का हमसे कोई लेनदेन नहीं है। फिर भी हमें चोर बताकर नारेबाजी की और रैली निकाली। हमारी प्रतिष्ठा धूमिल हुई है। जहां तक प्रॉपर्टी के बंटवारे की बात है तो हमारा मौखिक रूप से बंटवारा हो चुका है। लिखित बंटवारे के लिए तैयार है लेकिन एक अन्य प्रॉपर्टी में ऋषभ का नाम सम्मिलित है और वह प्रॉपर्टी हमारी है। जिस दिन ऋषभ हमारे पक्ष में हस्ताक्षर कर देगा, उसी दिन हम भी उसके पक्ष में हस्ताक्षर के लिए राजी है। हम बंटवारा रजिस्ट्रार कार्यालय में करवाएंगे ताकि बाद में कोई विवाद नहीं हो।

17 लोगों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई

सिटी थाना प्रभारी शर्मा ने बताया व्यापारी वीरेंद्र कोचट्‌टा, ऋषभ के ससुर सुभाष जैन व रैली निकालने में शामिल 15 से अधिक लोगों के खिलाफ 107, 116 की प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है। इधर थाने से जाने के बाद रुपए मांगने वालों लोगों ने एसडीएम शिराली जैन को ज्ञापन दिया। इसमें रुपए दिलाने और प्रॉपर्टी बंटवारे के प्रकरण को जल्दी निपटाने की मांग की ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jaora

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×