जावरा

--Advertisement--

भाजपा नेता ने पुराने हाईस्कूल भवन को बना रखा था गोदाम

एसडीएम की मौजूदगी में स्कूल भवन में बने गोदाम को सील करते हुए कर्मचारी। भास्कर संवाददाता | जावरा/रोजाना ग्राम...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:20 PM IST
एसडीएम की मौजूदगी में स्कूल भवन में बने गोदाम को सील करते हुए कर्मचारी।

भास्कर संवाददाता | जावरा/रोजाना

ग्राम रोजाना के पुराने हाईस्कूल भवन में वहीं के एक भाजपा नेता ने निर्माण सामग्री रख दी और सरकारी भवन का गोदाम के रूप में उपयोग किया। बुधवार शाम एसडीएम पहुंचीं। पंचनामा बनाया और गोदाम के रूप में उपयोग किए जा रहे स्कूल भवन को सील कर दिया। वहीं भाजपा नेता का कहना है मेरे पास ग्राम पंचायत का अनुबंध है। विधिवत किराए पर लेकर भवन में निर्माण सामग्री रखी है। एसडीएम ने कहा दस्तावेज पेश होंगे तो जांच करेंगे। फिलहाल मौका स्थिति का पंचनामा बनाकर गोदाम सील कर दिया है।

बुधवार शाम करीब 5 बजे एसडीएम शिराली जैन, तहसीलदार राकेश सस्तिया, नायब तहसीलदार रामविलास वक्तारिया, सी.एल. टांक पटवारी दल के साथ ग्राम रोजाना पहुंचे। वहां पुराने हाईस्कूल भवन में जाकर देखा ताे भवन के एक हिस्से में सीमेंट की बोरियां, सरिया, पत्थर रखे हुए थे। मौके पर मौजूद लोगों से पूछा तो पता चला कि यह भाजपा नेता अनिल जैन का गोदाम है। गोदाम पर कार्यरत कर्मचारी संजय बामनिया से इसकी जानकारी ली और उसकी मौजूदगी में सरकारी भवन के निजी उपयोग संबंधी पंचनामा बनाया। फिर गोदाम सील कर दिया । कार्रवाई से गांव में हड़कंप मच गया।

निजी खर्च से भवन की मरम्मत करवाई, मांगलिक भवन बनवाया

भाजपा नेता अनिल जैन ने बताया कि हाईस्कूल का नया भवन बन चुका है। स्कूल शिफ्ट हो गया। पुराना भवन जर्जर था। चार साल पहले तत्कालीन सरपंच-सचिव की सहमति से मैंने निजी खर्च कर भवन की रिपेयरिंग करवाई। एक हिस्से में मांगलिक भवन बनाया और वहां सार्वजनिक आयोजन हो रहे हंै। दूसरे हिस्से का पंचायत से विधिवत अनुबंध किया कि 15 साल तक हम भवन के एक हिस्से का निजी उपयोग करेंगे। इसका किराया मेरे द्वारा रिपेयर की गई राशि से समायोजित हो जाएगा। इसी अनुबंध के आधार पर हमने वहां गोदाम बनाया है। अभी मैं बाहर हूं लेकिन गुरुवार को अनुबंध की प्रति उपलब्ध करवा दूंगा। मामले में पंचायत सचिव अभय जैन का कहना है हमारे कार्यकाल के पूर्व का एक अनुबंध है। उसी अनुसार भाजपा नेता अनिल जैन द्वारा पुराने स्कूल भवन का उपयोग किया जा रहा है। एसडीएम जैन का कहना है कुछ लोगों की शिकायत पर कार्रवाई हुई है। यदि पंचायत का अनुबंध है तो जांच की जाएगी। उसमें भी देखा जाएगा कि क्या स्कूल भवन को किराए पर देने का अधिकार ग्राम पंचायत को है अथवा नहीं। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पंचनामा बनाकर कलेक्टोरेट भेज रहे हैं।

X
Click to listen..