• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Jaora
  • डीआईजी ने दिए परवलिया में दबिश के निर्देश, एएसपी पांच थानों का बल लेकर पहुंचे, 10 लड़की-8 लड़के संदिग्ध हालत में पकड़ाए
--Advertisement--

डीआईजी ने दिए परवलिया में दबिश के निर्देश, एएसपी पांच थानों का बल लेकर पहुंचे, 10 लड़की-8 लड़के संदिग्ध हालत में पकड़ाए

भास्कर संवाददाता | जावरा/ढोढर नीमच के एक एनजीओ की सूचना पर रतलाम रेंज डीआईजी जितेंद्रसिंह कुशवाह ने...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:35 AM IST
भास्कर संवाददाता | जावरा/ढोढर

नीमच के एक एनजीओ की सूचना पर रतलाम रेंज डीआईजी जितेंद्रसिंह कुशवाह ने जावरा-नयागांव फोरलेन किनारे स्थित परवलिया बांछड़ा डेरे में दबिश के निर्देश दिए। इसके बाद एएसपी, सीएसपी पांच थानों का पुलिस बल लेकर डेरे पहुंचे और वहां से संदिग्ध हालत में 10 लड़कियों व 8 लड़कों को गिरफ्तार किया। इनके खिलाफ देह व्यापार की आशंका में पीटा एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर मामला जांच में लिया है।

एएसपी राजेश सहाय, सीएसपी आशुतोष बागरी ने दलबल के साथ सोमवार शाम परवलिया डेरे में दबिश दी। वहां से देह व्यापार की आशंका में युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया। कार्रवाई से डेरे में भगदड़ मच गई। सीएसपी ने बताया नीमच के एनजीओ नई आभा सामाजिक सोसायटी की सूचना पर यह कार्रवाई हुई है। इसमें रिंगनोद थाना प्रभारी शिवांशु मालवीय, चौकी प्रभारी अमित कुशवाह, आई थाना प्रभारी डी.के. जोशी, सिटी थाना प्रभारी एस.सी. शर्मा, मंदसौर कोतवाली प्रभारी विनोदसिंह कुशवाह, महिला सब इंस्पेक्टर प्रियंका चौहान, आरती सिसौदिया, निशा चौबे, शीना खान तथा समर्थ संगिनी स्क्वॉड की सदस्य, महिला थाने के बल सहित करीब 50 से अधिक पुलिसकर्मी शामिल थे।

ये पकड़ाए संदिग्ध हालत में, आज कोर्ट में पेश करेंगे

रिंगनोद थाना प्रभारी मालवीय ने बताया परवलिया बांछड़ा डेरे से आरोपी श्यामलाल पिता दारासिंह (37), लखन पिता अनारसिंह (28) दोनों निवासी बागाखेड़ा, धर्मेंद्र पिता प्रभुलाल (27) निवासी शिवधाम कॉलोनी देवास रोड उज्जैन, शोएब उर्फ सौरभ पिता हनीफ मोयल (19) निवासी मराठा का वास रतलाम, दीपक पिता कैलाश राठौर (26) निवासी अशोक नगर उज्जैन, प्रदीप पिता कालीदास (22) व हरेंद्र कुमार पिता विजय भाई (22) दोनों निवासी मेन बाजार गोगंबा गुजरात, कचरूलाल पिता चुन्नीलाल (40) निवासी गांव चौकी थाना रिंगनोद को गिरफ्तार किया है। इन्हें मंगलवार को कोर्ट में पेश करेंगे।

इस तरह पुलिस संदिग्ध युवतियों को घेरे रही

रिंगनोद थाने में पकड़ी गई महिलाओं के साथ मौजूद पुलिस अधिकारी एवं समर्थ संगिनी स्क्वॉड की युवतियां।

ग्रामीणों का आरोप शादी से उठाकर ले गए लोगों को

शिवसेना नेता एवं समाज के प्रकाश सोलंकी ने पुलिस की कार्रवाई को गलत बताया। सोलंकी का कहना है डेरे में दो-तीन घरों पर शादी के कार्यक्रम थे। इसमें कई मेहमान आए थे। यहां पुलिस ने दबिश देकर भगदड़ की स्थिति पैदा कर दी। डर का माहौल बन गया। कई मेहमानों को पुलिस ने उठा लिया जो इसमें शामिल नहीं हैं। मंगलवार को डेरे में न्यायाधीश विधिक साक्षरता शिविर संबोधित करेंगे। हम इसी की तैयारी में जुटे थे, तभी पुलिस ने कार्रवाई कर दी। मामले में एएसपी, सीएसपी, रिंगनोद थाना प्रभारी ने बताया कार्रवाई निष्पक्ष है। मेहमानों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई है। केवल जो संदिग्ध हालत में पाए गए, उन्हें ही गिरफ्तार किया है। बाकी आरोप गलत हैं।