--Advertisement--

दोनों जिलों के 26 कर्मचारियों को मिला एक्सटेंशन

दोनों जिलों के 26 कर्मचारियों को मिला एक्सटेंशन झाबुआ | मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा शासकीय सेवकों की...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:40 AM IST
दोनों जिलों के 26 कर्मचारियों को मिला एक्सटेंशन

झाबुआ | मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति आयु 60 से 62 वर्ष की घोषणा का लाभ 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे अधिकारी-कर्मचारियों को भी मिलेगा। सरकार ने इस संबंध में अध्यादेश जारी कर दिया है। जिसका लाभ झाबुआ जिले के 20 और आलीराजपुर जिले के 6 अधिकारी-कर्मचारियों को मिलेगा। ये सभी शनिवार को सेवानिवृत्त हो रहे थे। कुछ ने तो बकायदा सेवानिवृत्ति के बाद साथी कर्मचारियों के लिए सहभोज का आयोजन रखने के साथ आमंत्रण पत्र बंटवा दिए थे। उन्हें दो साल का एक्सटेंशन मिल गया है। जिसके चलते अब वे मार्च-2020 तक सेवाएं दे सकेंगे। आदिवासी विकास विभाग में कार्यरत शंकरलाल सोलंकी 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे थे। उन्होंने 1 अप्रैल को सहभोज कार्यक्रम रख दिया। इसके लिए सभी परिचितों व रिश्तेदारों को आमंत्रण पत्र भी भिजवा दिए। अध्यादेश जारी होने के बाद अब वे दो साल और सेवाएं देंगेे। हालांकि उन्होंने कार्यक्रम में कोई तब्दीली नहीं की है।

पीपीटी के फॉर्म 4 तक जमा किए जा सकेंगे

झाबुआ| पीईबी ने प्री पॉलीटेक्निक टेस्ट (पीपीटी) के लिए ऑनलाइन आवेदन की आखिरी तारीख बढ़ा दी है। छात्र अब 4 अप्रैल तक आवेदन कर सकेंगे। वहीं, आवेदन पत्र में संशोधन 5 अप्रैल कराए जा सकेंगे। इससे पहले आवेदन की आखिरी तारीख 26 मार्च तय थी। बोर्ड ने पहले आखिरी तारीख 30 मार्च तक बढ़ा दी थी पर शासकीय अवकाशों को देखते हुए इसमें संशोधन किया है।