• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Jhabua
  • मुस्लिम समाज ने ध्वज यात्रा की अगवानी कर पानी और ठंडाई का इंतजाम भी किया
--Advertisement--

मुस्लिम समाज ने ध्वज यात्रा की अगवानी कर पानी और ठंडाई का इंतजाम भी किया

Jhabua News - हनुमान जयंती पर शनिवार को राष्ट्रीय हिंदू सेना एवं त्रिवेणी परिवार द्वारा ध्वज यात्रा निकाले जाने के आह्वान से...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:40 AM IST
मुस्लिम समाज ने ध्वज यात्रा की अगवानी कर पानी और ठंडाई का इंतजाम भी किया
हनुमान जयंती पर शनिवार को राष्ट्रीय हिंदू सेना एवं त्रिवेणी परिवार द्वारा ध्वज यात्रा निकाले जाने के आह्वान से पुलिस और प्रशासन की नींद उड़ी हुई थी। वजह यात्रा के रुट में मुस्लिम बहुल इलाका हुड़ा शामिल होना था। ऐसे में भारी पुलिस इंतजाम किए गए थे। हालांकि सारी आशंकाओं को दरकिनार करते हुए शहर ने ध्वज यात्रा के दौरान सांप्रदायिक सौहार्द की नई मिसाल पेश कर दी। मुस्लिम समाज ने न केवल पुष्प वर्षा कर यात्रा का स्वागत किया बल्कि श्रद्धालुओं के लिए पानी और ठंडाई का इंतजाम भी किया।

यात्रा को लेकर पहले ही आयोजकों ने प्रशासन को सूचना दे दी थी। ऐसे में अधिकारी नहीं चाहते थे कि किसी तरह की अप्रिय स्थिति निर्मित हो। लिहाजा यात्रा के आयोजकों से अलग चर्चा की गई तो वहीं मुस्लिम समाज के जिला सदर हाजी मुर्तुजा खान व मुस्लिम पंचायत के सदर अब्दुल गफूर से भी बात की। जिला सदर ने एसपी को पहले ही भरोसा दिला दिया था कि हम ध्वज यात्रा का स्वागत करेंगे। इसके लिए शनिवार सुबह ही जमात खाने के बाहर पीने के पानी की केन रखवा दी गई। लस्सी की भी व्यवस्था की गई। शाम करीब साढ़े 4 बजे शहर में से घूमती हुई ध्वज यात्रा हुसैनी चौक पहुंची तो मुस्लिम समाज के सदस्यों ने पुष्पवर्षा कर उनका स्वागत किया। समाज के युवाओं ने यात्रा में शामिल श्रद्धालुओं को पानी और ठंडाई पिलाई। इस दौरान एसडीओपी आरसी भाकर दल-बल के साथ खड़े रहे। जब यात्रा हुसैनी चौक से गुजर गई तो सभी ने राहत की सांस ली।

ध्वज यात्रा की शुरुआत अंबे माता मंदिर से हुई। आगे-आगे डीजे पर धार्मिक गीत गूंज रहे थे। पीछे युवा केसरिया ध्वज लिए चल रहे थे। यात्रा राजबाड़ा चौक, आजाद चौक, बाबेल चौराह, श्वेतांबर जैन मंदिर, जगमोहनदास मार्ग, हुसैनी चौक होते हुए हनुमान टेकरी पर समाप्त हुई।

हनुमान जयंती पर निकली ध्वज यात्रा के हुड़ा क्षेत्र में पहुंचने मुस्लिम युवाओं ने जल-पान कराकर स्वागत-सत्कार किया।

सभी मिल-जुलकर मनाते हैं त्योहार

मुस्लिम समाजजन बोले झाबुआ में सभी समाज मिल-जुलकर सारे त्योहार मनाते हैं। यही हमारी संस्कृति भी है। ध्वज यात्रा के सिलसिले में जब हम एसपी महोदय से मिलने पहुंचे थे तो उन्होंने ही स्वागत का सुझाव दिया था। हमारी भी इच्छा थी। इसके माध्यम से अन्य जिले भी प्रेरणा लेंगे।

झाबुआ जिला बन चुका है मिसाल

झाबुआ सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल बन चुका है। मोहर्रम पर्व के दौरान निकलने वाले मेहंदी के जुलूस के लिए नवरात्रि में राजबाड़ा मित्र मंडल एवं श्री देवधर्मराज नवदुर्गा महोत्सव समिति द्वारा रास्ता दिया गया था। इसके अलावा उर्स व ईद मिलादुन्नबी के दौरान भी अन्य समाज के सदस्य पानी और शरबत की व्यवस्था करते हैं। पहली बार ध्वज यात्रा में भी एक नया रूप देखने को मिला।

X
मुस्लिम समाज ने ध्वज यात्रा की अगवानी कर पानी और ठंडाई का इंतजाम भी किया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..