झाबुआ

--Advertisement--

जहां लोग कचरा फेंकते थे वहां अब गुलाब वाटिका

कुछ समय पहले तक समझाने के बावजूद जिस जगह लोग कचरा डालते थे और पूरे समय बदबू आया करती थी वहां अब गुलाब वाटिका आकार ले...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:40 AM IST
जहां लोग कचरा फेंकते थे वहां अब गुलाब वाटिका
कुछ समय पहले तक समझाने के बावजूद जिस जगह लोग कचरा डालते थे और पूरे समय बदबू आया करती थी वहां अब गुलाब वाटिका आकार ले चुकी है। गंदगी का कहीं नामोनिशान नहीं रह गया और सिर्फ नजर आते हैं तो सैकड़ों गुलाब। जिन्हें देखकर हर किसी का मन प्रफुल्लित हो जाता है। यह साबित करता है कि बदलाव इस तरह भी लाया जा सकता है।

दरअसल डीआरपी लाइन में नए बने क्वाटर के पास खाली जमीन को लोगों ने अघोषित ट्रेचिंग ग्राउंड बना दिया था। आसपास की बिल्डिंग का पूरा कचरा यहीं डाला जा रहा था जिससे गंदगी का ढेर लग गया था। ऐसे में एक दिन एसपी महेशचंद जैन लाइन का निरीक्षण करने पहुंचे। हालात देखकर वे भी चौंक गए। उन्हें लगा कि सफाई करवाने के बावजूद लोग आदत से बाज नहीं आएंगे तो उन्होंने खाली पड़ी जमीन पर गुलाब वाटिका तैयार करने का निर्णय ले लिया। इसके लिए पहले तो पूरा कचरा साफ करवाया और फिर गड्ढ़े खुदवाकर उनमें काली मिट्टी डलवाई। अपने स्तर पर ही गुलाब के पौधे मंगवाए। अब गुलाब वाटिका तैयार हो चुकी है और यहां सैकड़ों गुलाब खिल रहे हैं। ऐसे में कोई भी अब यहां कचरा नहीं डालता। बदबू की जगह गुलाब की खुशबू आती है।

डीआरपी लाइन में नए बने क्वाटर के पास खाली जमीन को लोगों ने अघोषित ट्रेचिंग ग्राउंड बना दिया था

डीआरपी लाइन में इस जगह लोग कचरा फेंकते थे, अब गुलाब वाटिका आकार ले चुकी है।

प्रदेश की सबसे स्वच्छ पुलिस लाइन है झाबुआ

झाबुआ की डीआरपी लाइन प्रदेश की सबसे स्वच्छ पुलिस लाइन बन चुकी है। लाइन में जहां भी गंदगी थी वहां पौधारोपण कर उसे सुंदर बना दिया गया। परेड ग्राउंड के चारों तरफ लगाए गए कदंब के पौधे अब पेड़ बन चुके हैं। पुलिस परिवारों में होने वाले आयोजनों के लिए गार्डन तैयार हो चुका है और जवानों के ठहरने के लिए बैरेक के जीर्णोद्धार का कार्य चल रहा है।

X
जहां लोग कचरा फेंकते थे वहां अब गुलाब वाटिका
Click to listen..