--Advertisement--

आओ बनाएं नशा मुक्त झाबुआ

जिले में तेजी से फैल रहे नशे के कारोबार और युवा पीढ़ी के इसकी चपेट में होने की बात सामने आने के बाद समाज व संगठन मंथन...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:55 AM IST
आओ बनाएं नशा मुक्त झाबुआ
जिले में तेजी से फैल रहे नशे के कारोबार और युवा पीढ़ी के इसकी चपेट में होने की बात सामने आने के बाद समाज व संगठन मंथन कर रहे हैं। हर कोई चाहता है कि झाबुआ नशा मुक्त हो। इसके लिए वे पुलिस से तो कार्रवाई की मांग कर ही रहे हैं, साथ में अपने स्तर पर भी कुछ ऐसे प्रयास में लगे हैं जिससे युवा नशे से दूर रहे। स्कूल व कॉलेजों में जागरूकता अभियान चलाने की योजना भी बनाई जा रही है।

युवा पीढ़ी को नशे से बचाने के लिए संगठन-समाज सब हुए एकसाथ

व्यापारी संघ : झाबुआ को नहीं बनने देंगे उड़ता पंजाब

सकल व्यापारी संघ के अध्यक्ष नीरज राठौर व सचिव कमलेश पटेल ने कहा किसी भी सूरत में झाबुआ को उड़ता पंजाब नहीं बनने दिया जाएगा। नशीली दवाओं के अवैध कारोबार में जकड़ते जा रहे युवाओं को बचाने के लिए जन जागरूकता अभियान चलाएंगे। पुलिस से भी मांग करते हैं कि जो भी व्यक्ति युवाओं को इस तरह की ड्रग सप्लाय करता है उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करें। यदि हम अब भी सजग नहीं हुए तो भावी पीढ़ी को बचाना मुश्किल हो जाएगा।

एनएसयूआई : प्रतिबंधित दवाओं की बिक्री पर रोक लगे

भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) ने नाइट्रावेट सहित अन्य प्रतिबंधित दवाओं के साथ ही अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने की मांग की है। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष विनय भाबर ने बताया शहर और आसपास के सभी कस्बों में युवा नशे का शिकार हो रहे हैं। नाइट्रावेट का नशा करने का प्रचलन दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। युवक समूह में इस तरह का नशा करते हैं। यदि स्थिति पर नियंत्रण नहीं किया गया तो नशेड़ियों की तादाद इतनी ज्यादा हो जाएगी कि उन पर काबू पाना नामुमकिन हो जाएगा।

राजगढ़ नाका मित्रमंडल : हर वार्ड में बनाएंगे एक टीम

राजगढ़ नाका मित्र मंडल ने शहर को नशा मुक्त बनाने की दिशा में सभी 18 वार्ड में युवाओं की एक टीम बनाने का निर्णय लिया है। यह टीम नशा करने वाले लड़कों के माता-पिता को उनकी जानकारी देने के साथ ही पुलिस को सूचना देगी। मंडल के शैलेष दुबे ने बताया अवैध रूप से नशे का कारोबार करने वालों की जानकारी जुटाकर उसे पुलिस को देंगे। नगर को नशामुक्त बनाने के साथ ही नशे का जहर जो फैल रहा है उसे दूर किया जाएगा। समय-समय पर जागरुकता अभियान चलाया जाएगा।

...और नशे के खिलाफ इन्होंने भी गुस्सा जताया

सिर्फ एक व्यक्ति नहीं पूरे समाज को आगे आना होगा

युवा दंत चिकित्सक डॉ. वैभव सुराणा कहते हैं झाबुआ को उड़ता झाबुआ बनने से बचाने के लिए पूरे समाज को आगे आना होगा। किसी एक व्यक्ति या विभाग की जिम्मेदारी बोलकर हम अपने नैतिक दायित्व से पल्ला नहीं झाड़ सकते। अगर हम अब नहीं जागे तो हमें इसका खामियाजा और भी भुगतना पड़ सकता है। इसलिए शहर को नशा मुक्त बनाने के लिए सभी लोग पहल करें। अपने बच्चों से बात करें। उनके दोस्तों के बारे में जाने।

मैं खो चुका हूं अपना बेटा, किसी और को दुख न झेलना पड़े

ग्राम गेहलर छोटी के ग्रामीण नाना पालिया कहते हैं- नशे की वजह से ही दो लड़कों ने मेरे बेटे राधू की हत्या कर दी थी। मैं तो अपने बच्चे को खो चुका हूं लेकिन और कोई पिता के साथ ऐसा नहीं होना चाहिए। प्रतिबंधित दवाएं उपलब्ध कराने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई होना चाहिए।

X
आओ बनाएं नशा मुक्त झाबुआ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..