--Advertisement--

पहले दिन 358 परीक्षार्थी रहे गैरहाजिर

12वीं की परीक्षा हुई शुरू, परीक्षार्थी बोले-आसान था हिंदी का पेपर कोई नकल प्रकरण नहीं बना, जिलेभर में 47 परीक्षा...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 03:35 AM IST
12वीं की परीक्षा हुई शुरू, परीक्षार्थी बोले-आसान था हिंदी का पेपर

कोई नकल प्रकरण नहीं बना, जिलेभर में 47 परीक्षा केंद्र थे

भास्कर संवाददाता | झाबुआ

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित बारहवीं बोर्ड की वार्षिक परीक्षा गुरुवार से शुरू हुई। दर्ज 7 हजार 322 विद्यार्थियों में से कुल 6 हजार 964 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हुए। 358 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। पहले दिन कोई नकल प्रकरण नहीं बना। सभी परीक्षा केंद्रों पर उड़नदस्ता सतत नजर रखे हुए था।

पहला पर्चा होने से विद्यार्थी रोमांचित थे। चूंकि परीक्षा शुरू होने से आधा घंटे पहले यानि 8.30 बजे परीक्षा कक्ष में प्रवेश होना था, इसलिए एक घंटे पहले ही परीक्षा केंद्रों के बाहर परीक्षार्थियों की भीड़ लग गई। अपना रोल नंबर तलाशा और फटाफट संबंधित कक्ष में जा पहुंचे। दोपहर 12 बजे परीक्षा खत्म होने के बाद जैसे ही बाहर निकले तो अपने साथियों से यही सवाल किया कि तुम्हारा पेपर कैसा रहा। अधिकतर विद्यार्थियों ने यही बात दोहराई की हिंदी का पेपर आसान था। अधिकतर परीक्षार्थियों का यही कहना था कि वो पेपर पूरा करके आए हैं। जो याद किया था अधिकतर वहीं आया।

परीक्षा के लिए जिलेभर 47 केंद्र बनाए गए थे। इन सभी केंद्रों पर परीक्षा हुई। नकल रोकने के लिए उड़नदस्ते घूमते रहे। हालांकि किसी भी केंद्र पर नकल प्रकरण नहीं बना। सभी केंद्रों के बाहर पुलिस जवान भी तैनात थे। उन्होंने भी परीक्षा पर नजर रखी।