--Advertisement--

70 आराधकों ने किए 13 लाख नवपदजी के जाप

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:40 AM IST

Jhabua News - श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में नौ दिवसीय श्री सिद्धचक्र नवपद ओलीजी की आराधना की पूर्णाहुति रविवार को हुई। नौ दिनों...

70 आराधकों ने किए 13 लाख नवपदजी के जाप
श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में नौ दिवसीय श्री सिद्धचक्र नवपद ओलीजी की आराधना की पूर्णाहुति रविवार को हुई। नौ दिनों तक 70 आराधकों ने 600 आयंबिल के साथ 13 लाख नवपदजी के जाप किए। आखिरी दिन सभी आराधकों के पारणे हुए।

प्रात: सभी तपस्वियों ने साध्वीश्री पुनितप्रज्ञाश्रीजी, प्रमोदयशाश्रीजी, नंदियशाश्रीजी, गोयमयशाश्रीजी व ऋजुयशाश्रीजी की निश्रा में श्री सिद्धचक्रजी पट्‌ट के समक्ष अरिहंत, सिद्ध, आचार्य, उपाध्याय, साधु, दर्शन, ज्ञान, चारित्र एवं तप इन 9 पदों की पूर्णाहुति की आराधना विधि संपन्न की। पश्चात पक्षाल, पूजन एवं आरती कर शांति स्नात्र की विधि हुई। इस दौरान साध्वीश्री पुनितप्रज्ञाश्रीजी ने कहा चैत्र माह एवं आसोज महा में होने वाली 9 दिवसीय आराधना क्रमश: तपस्वी 9 बार कर साढ़े चार वर्ष में पूर्ण कर नवपद की आराधना पूर्ण करता है। ये आराधना तपस्वी को 9 भवों के अंदर निश्चित ही शाश्वत मोक्ष सुख प्रदायक बनती है। 70 से अधिक तपस्वियों के पारणे लाभार्थी परिवार द्वारा श्री गुरु मंदिर हॉल पर कराए। लाभार्थी परिवार द्वारा सभी तपस्वियों का तिलक निकालकर चांदी के सिक्के से बहुमान किया।

लाभार्थी परिवार का बहुमान किया -लाभार्थी परिवार की कमलाबेन मुथा, दीपक , प्रकाश, सविता, प्रभा, रिंकल, प्रतीक, सिद्धार्थ, सलोनी, श्रद्धा एवं चैत्य का श्री संघ की ओर से शाल-श्रीफल व माला पहनाकर धर्मचंद धर्मचंद मेहता, राजेंद्र कटारिया, शरद रुंगरेचा, सूर्य प्रकाश कोठारी, अमित सकलेचा, कांतिलाल पगारिया, महेंद्र मुथा, गजेंद्र वागरेचा, अनिल रुनवाल, बबलू मुथा एवं मैना लालन, अंतिम छाजेड़, अलका शाह, अर्चना कोठारी, शीला बाबेल, लीलाबेन भंडारी, मांगूबेन सकलेचा, बिंदू भंडारी, कोकिलाबेन मेहता ने बहुमान किया।

रविवार को आराधकों के पारणे हुए, साध्वीश्री ने विभिन्न धार्मिक क्रियाएं संपन्न कराई

कार्यक्रम के दौरान समाजजनों ने लाभार्थी परिवार का बहुमान किया।

X
70 आराधकों ने किए 13 लाख नवपदजी के जाप
Astrology

Recommended

Click to listen..