--Advertisement--

योजनाओं का लाभ लेने यूनिक आईडी से होंगे आवेदन

अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के लोगों को अब अपने आवेदन फाॅर्म के साथ अलग-अलग दस्तावेज नहीं लगाना पड़ेंगे। लोक सेवा...

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2018, 02:10 AM IST
अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के लोगों को अब अपने आवेदन फाॅर्म के साथ अलग-अलग दस्तावेज नहीं लगाना पड़ेंगे। लोक सेवा केंद्र की एमपी ऑनलाइन और सीएसी सेंटरों के माध्यम से इस वर्ग के लोगों काे यूनिक आईडी नंबर मिलेगा, जिसे वह आवेदन पर लिखेंगे और सभी दस्तावेज मान्य कर लिए जाएंगे। इसकी शुरुआत 1 जुलाई से कर दी गई है। यह यूनिक आईडी नंबर फिलहाल सिर्फ लोक सेवा केंद्र से बनाए जा रहे हैं।

गौरतलब है कि मप्र सरकार ने एसटी-एसी वर्ग को सुविधा के लिए यूनिक आईडी बनाने की योजना शुरू की है। यह यूनिक आईडी लोक सेवा केंद्रों से बनाई जाएगी। जिस व्यक्ति की यूनिक आईडी होगी, वह जब भी स्कूल, कॉलेज या फिर शासकीय योजना में लाभ लेने के लिए आवेदन करेगा तो उसे अलग से जाति प्रमाण पत्र, आधार व अन्य दस्तावेज नहीं देने होंगे। आवेदन के साथ सिर्फ लोक सेवा केंद्र की ओर से दिए गए यूनिक नंबर को लिखना होगा। इसके बाद इस नंबर से उसके सभी दस्तावेजों की जांच अासानी से कर ली जाएगी। इससे एससी-एसटी वर्ग को काफी राहत मिलेगी।

लोक सेवा केंद्र के माध्यम से यूनिक आईडी बनाने का काम शुरू कर दिया गया है। यूनिक आईडी से एससी.एसटी के छात्रों को स्कूल कॉलेज एवं अन्य शासकीय योजनाओं के लिए दस्तावेज नहीं लगाने होंगे।

सुविधा

लोक सेवा केंद्र से बनाई जा रहीं एससी.एसटी वर्ग की यूनिक आईडी, आवेदन के लिए नहीं होगी सभी दस्तावेजों की जरूरत

अब सिर्फ 5 दिन में बन जाएगा जाति प्रमाण पत्र

एससी एसटी वर्ग में यूनिक आईडी बनाने के लिए सभी दस्तावेज ऑनलाइन हो सकें, ऐसे में उनके ऑनलाइन जाति प्रमाण पत्र भी लोक सेवा केंद्र को तीन दिन में उपलब्ध कराने होंगे ताकि वह भी यूनिक आईडी में शामिल हो सके। इसके अलावा यदि किसी के पास जाति प्रमाण पत्र नहीं है तो वह अपने पिता या माता के जाति प्रमाण पत्र के साथ आवेदन करेगा। उसे 5 दिन में ऑनलाइन जाति प्रमाण पत्र बनाकर दिया जाएगा। ऐसे में उन्हें जाति प्रमाण पत्र के लिए पंजीयन कार्यालय व तहसीलदार, एसडीएम कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने होंगे।

यूनिक आईडी बनवाने के लिए देने होंगे यह आवेदन

एससी-एसटी वर्ग के लोगों को यूनिक आईडी बनवाने के लिए लोक सेवा केंद्र पर जाकर अपने सभी दस्तावेज जमा कराने होंगे। इसमें आधार कार्ड, राशन कार्ड, परिवार आईडी, जाति प्रमाण पत्र, मूल निवासी प्रमाण पत्र की फोटो काॅपी शामिल है। इन सभी को ऑनलाइन कर यूनिक आईडी बनाई जाएगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..