--Advertisement--

साध्वीश्री ने कक्षा में बताया-क्या नहीं पकाना चाहिए

चातुर्मास के दौरान धर्म आराधनाओं का दौर जारी है। बावन जिनालय में शनिवार को महिलाओं-बालिकाओं के लिए विशेष शिविर...

Dainik Bhaskar

Jul 29, 2018, 02:55 AM IST
साध्वीश्री ने कक्षा में बताया-क्या नहीं पकाना चाहिए
चातुर्मास के दौरान धर्म आराधनाओं का दौर जारी है। बावन जिनालय में शनिवार को महिलाओं-बालिकाओं के लिए विशेष शिविर लगा। इसमें साध्वियों ने महिलाओं को जीवों की रक्षा करते हुए भोजन पकाने व भक्ष्य अभक्ष्य के बारे में सूक्ष्म व विस्तृत जानकारी दी। साथ ही 24 तीर्थंकर के नाम व लांछन पर आधारित प्रश्नपत्र प्रतियोगिता भी रखी गई। महिलाओं व बालिकाओं को साध्वीश्री ने 22 अभक्ष्य कौन से हैं व उन्हें क्यों नहीं खाना चाहिए, उन्हें खाने से जीवों को क्या नुकसान होते हैं, यह बताया।

मांस, मदिरा, मधु, मक्खन आदि महाविगयीं पर भी ज्ञान दिया। शिविर में लगभग 60 महिलाओं ने भाग लिया। हर शनिवार को महिलाओं व बालिकाओं के लिए शिविर होगा। आयंबिल तप भी चल रहे हैं। 35 आराधकों ने वर्धमान तप के पाए डाले हैं। 15 से 20 आराधक ओलीजी भी कर रहे हैं। शनिवार को भी 45 आयंबिल हुए। रविवार को बच्चों के लिए विशेष शिविर होगा। यह भी हर रविवार को आयोजित होगा।

धर्मसभा में पच्छखान का महत्व बताया

पुनीत प्रज्ञा श्रीजी ने पूर्णिमा से मंदिरजी में मूलनायक आदिनाथ दादा के शक्रस्तव मंत्रोच्चार से अभिषेक शुरू किए। रोजाना सुबह 6 बजे इस विधि से अभिषेक किए जाएंगे। अभिषेक का लाभ राजेश मेहता परिवार ने लिया। अभिषेक के बाद अष्टप्रकारी पूजन, स्नात्र पूजन, आरती की गई। साध्वीश्रीजी ने बताया इस स्तव से अभिषेक करने से श्री संघ की आधी, व्याधि उपाधि दूर होती है। शनिवार को साध्वी श्रीजी ने सुबह प्रवचन में सभी श्रावक श्राविकाओं को पच्छखान का महत्व बताया। उन्होंने कहा कि पच्छखान से समुद्र जितना पाप बिंदु जितना हो सकता है, मनुष्य भव पापों के क्षय से ही मिलता है, मोक्ष मार्ग पर जाने के लिए मानव भव मिलना, और पापों को क्षय करना आवश्यक है। उन्होंने मोक्ष प्राप्ति के 5 तत्व भी बताए। सभी को विश्व मंगल की कामना करनी चाहिए व संयमित जीवन जीना चाहिए।

बावन जिनालय में महिलाओं-बालिकाओं का पहला शिविर, हर शनिवार को लगेगा

झाबुआ. बावन जिनालय में धर्मसभा में उपस्थित समाजजन।

X
साध्वीश्री ने कक्षा में बताया-क्या नहीं पकाना चाहिए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..