--Advertisement--

हतनारा के युवक ने बरबोदना में फांसी लगाकर आत्महत्या की

वाट्सएप की मदद से हुई मृतक की शिनाख्त भास्कर संवाददाता | रतलाम गुणावद-बरबोदना के बीच शनिवार सुबह महुए के पेड़...

Dainik Bhaskar

Jul 22, 2018, 03:00 AM IST
वाट्सएप की मदद से हुई मृतक की शिनाख्त

भास्कर संवाददाता | रतलाम

गुणावद-बरबोदना के बीच शनिवार सुबह महुए के पेड़ पर रस्सी से बंधे फंदे से 23 वर्षीय युवक की लाश मिली। शिनाख्त नहीं होने पर नामली पुलिस ने वाट्सएप पर मैसेज वायरल किया और मैसेज देखकर ममेरे भाई ने शाम को जिला अस्पताल पहुंचकर शिनाख्त की। जानकारी मिलने पर पिता और रिश्तेदार भी अस्पताल पहुंचे। पोस्टमार्टम रविवार को होगा।

नामली थाने के एएसआई विनोद कटारा ने बताया नामली-बरबोदना के बीच धन्नालाल गायरी के खेत पर महुए के पेड़ से लटकी युवक की लाश देख गुणावद निवासी जगदीश पिता कनीराम जाट ने पुलिस को सूचना दी थी। पुलिस ने शव को जिला अस्पताल पहुंचाया। मृतक की जेब में एक नींबू के अलावा शिनाख्ती के लिए कोई दस्तावेज नहीं मिला। मृतक का फोटो खींचकर वाट्सएप ग्रुप में डाला। शाम को खोखरा निवासी ममेरा भाई चंदन पिता रमेशचंद्र निनामा और रिश्तेदार श्रीराम पिता मोतीलाल मईड़ा ने जिला अस्पताल पहुंचकर मृतक की शिनाख्त दिलीप पिता बाबूलाल मकवाना निवासी हतनारा के रूप में की। चंदन और श्रीराम ने बताया शुक्रवार सुबह दिलीप घर से बगैर बताए चला गया था। दोपहर तक नहीं लौटा तो पेटलावद, झाबुआ तथा राजस्थान में रिश्तेदारों के यहां तलाश की। शनिवार को जिला अस्पताल में शव देखने के बाद चंदन और श्रीराम ने पिता बाबूलाल को सूचना दी।

पिता बाबूलाल ने बताया पिछले साल दिलीप की शादी कुशलगढ़ निवासी कांतीबाई से की थी। दिलीप की छोटी बहन सीमा है जिसकी शादी हो चुकी है। दो साल पहले भी दिलीप घर से चला गया था जो ढूंढने पर अयाना में मिला। उसने आत्महत्या क्यों की पता नहीं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..