• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Jhabua
  • खरडूबड़ी हाईस्कूल परिसर मंे लगे हैंडपंप से बच्चे व ग्रामीण पी रहे बैक्टीरिया वाला पानी
--Advertisement--

खरडूबड़ी हाईस्कूल परिसर मंे लगे हैंडपंप से बच्चे व ग्रामीण पी रहे बैक्टीरिया वाला पानी

Jhabua News - जिला मुख्यालय से 12 किमी दूर स्थित पांच हजार की आबादी वाले ग्राम खरडूबड़ी के ग्रामीण डायरिया की चपेट में है। अगर...

Dainik Bhaskar

Jul 05, 2018, 03:05 AM IST
खरडूबड़ी हाईस्कूल परिसर मंे लगे हैंडपंप से बच्चे व ग्रामीण पी रहे बैक्टीरिया वाला पानी
जिला मुख्यालय से 12 किमी दूर स्थित पांच हजार की आबादी वाले ग्राम खरडूबड़ी के ग्रामीण डायरिया की चपेट में है। अगर एच-2-एस रिपोर्ट की माने तो बैक्टीरिया वाला पानी पीने से ऐसे हालात बन रहे हैं। सामाजिक कार्यकर्ता व फ्लोराइड निवारण के लिए काम करने वाले सचिन वाणी ने गांव के तीन स्थानों से पानी के नमूने लिए थे, जिसमें से दो में बैक्टीरिया होने की बात सामने आई है। इनमें से एक हैंडपंप से तो स्कूली बच्चे भी पानी पी रहे हैं।

गांव में अब भी डायरिया के मरीज सामने आ रहे हैं। 2 जुलाई को वाणी खरडूबड़ी गए थे। उन्होंने बढ़ते डायरिया को देखते हुए दो स्थानों पर अस्थायी रूप से दो वाटर फिल्टर भी लगाए थे। इसके अलावा तीन जगह से पानी के नमूने लिए थे। इसकी एच-2-एस टेस्ट रिपोर्ट आ चुकी है। तीन में से दो जगह के पानी में बैक्टिरिया पाया गया है। इनमें से एक तो हाईस्कूल के समीप लगा हैंडपंप भी है। अगर बैक्टीरिया वाला पानी ग्रामीण पीते रहे तो वे डायरिया की चपेट में आते रहेंगे।


ऐसे की पानी की जांच

वाणी ने एच-2-एस टेस्ट पद्धति के आधार पर तीन बोतलों में तीन स्थानों से पानी भरा था। इसकी इसकी रिपोर्ट 24 घंटे बाद आती है। यदि पानी में बैक्टीरिया है तो बोतल के पानी का रंग काला पड़ जाएगा। जिस पानी में बैक्टीरिया नहीं है उसका पानी साफ ही रहेगा। सैंपल लेने के बाद 24 घंटे के बाद दो बोतल का पानी काला हो गया था।

जांच के बाद यहां पर निकला बैक्टीरिया




X
खरडूबड़ी हाईस्कूल परिसर मंे लगे हैंडपंप से बच्चे व ग्रामीण पी रहे बैक्टीरिया वाला पानी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..