--Advertisement--

गलती से झाबुआ आ गए बालक को समिति ने माता-पिता को सौंपा

चाइल्ड लाइन और बाल कल्याण समिति ने बालक को परिजन के सुपुर्द किया। चाइल्ड लाइन ने 9 अगस्त को एलआईसी कॉलोनी से लिया...

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 03:05 AM IST
गलती से झाबुआ आ गए बालक को समिति ने माता-पिता को सौंपा
चाइल्ड लाइन और बाल कल्याण समिति ने बालक को परिजन के सुपुर्द किया।

चाइल्ड लाइन ने 9 अगस्त को एलआईसी कॉलोनी से लिया था अपने संरक्षण में

भास्कर संवाददाता | झाबुआ

धार जिले एक बालक गलती से बस में बैठकर झाबुआ आ गया। दो दिन की काउंसलिंग के बाद चाइल्ड लाइन ने परिजन का पता लगाकर उसे माता-पिता को सौंप दिया।

9 अगस्त को बालक बलराम पिता नारायण (11) एलआईसी कॉलोनी में घूमता नर आया। सूचना मिलने पर चाइल्ड लाइन ने इसे अपने संरक्षण में लिया। इसके बाद इसकी काउंसलिंग की गई। बलराम ने बताया वह गलती से किसी बस में बैठकर झाबुआ आ गया है। उसने बताया वह ग्राम गुंदीखेड़ा राजोद जिला धार का रहने वाला है। चाइल्ड लाइन बालक के परिजनों का पता लगाकर उन्हें बाल कल्याण समिति झाबुआ बुलाया गया। 11 अगस्त को बलराम को बाल कल्याण समिति झाबुआ के समक्ष प्रस्तुत किया गया। समिति द्वारा बालक व उसके माता-पिता की काउंसलिंग की गई। इसके बाद उसे माता-पिता को सौंप दिया। इस अवसर पर बाल कल्याण समिति के सदस्य यशवंत भंडारी, चेतना सकलेचा, ममता तिवारी और चाइल्ड लाइन झाबुआ के जिला समन्वयक सुशील सिंगाड़िया, खुश्बू, अनिता, दीपक, राहुल बेनेडिक्ट, रवि, रजनी आदि उपस्थित थे।

X
गलती से झाबुआ आ गए बालक को समिति ने माता-पिता को सौंपा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..