• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Jhabua
  • गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत

गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत / गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत

Jhabua News - युवा सांई समिति द्वारा गुरुवार को गुरुपूर्णिमा के उपलक्ष्य में नगर में साईं पालकी यात्रा निकाली गई। हजारों...

Bhaskar News Network

Jul 27, 2018, 03:05 AM IST
गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत
युवा सांई समिति द्वारा गुरुवार को गुरुपूर्णिमा के उपलक्ष्य में नगर में साईं पालकी यात्रा निकाली गई। हजारों भक्तों ने बाबा के दर्शन कर पुण्य लाभ लिया। यात्रा की शुरुआत शाम 4.30 बजे डीआरपी लाइन स्थित श्री सांई मंदिर से हुई। पालकी यात्रा का रास्तेभर विभिन्न संगठनों ने स्वागत किया।

यात्रा का नेतृत्व धर्मध्वजा लिए दो अश्व सवार कर रहे थे। डीजे, बैंड, ढोल दल और ताशे माहौल में उत्साह का संचार कर रहे थे। इनके साथ थिरकता चल रहा था युवाओं का समूह। आस्था के रस से सराबोर सांई भक्तों ने बाबा की पालकी उठा रखी थी। समिति के दिलीप कुशवाह अन्य पदाधिकारियों के साथ केशरिया साफा बांधे चल रहे थे। डीजे पर बजे रही धुन पर बच्चे व युवा नृत्य करते थे। सबसे पीछे महिलाएं चल रही थी। जगह-जगह सामाजिक संगठनों ने यात्रा का स्वागत पुष्पवर्षा से किया। नगर के मुख्य मार्ग से होते हुए यात्रा पुन: मंदिर पहुंची। यहां रात साढ़े 8 बजे बाबा की महाआरती की गई।

डीआरपी लाइन स्थित सांई मंदिर को उत्सव के लिए खास तौर से सजाया गया। सुबह 7.30 बजे साईं आरती हुई। सुबह 10 बजे से मंदिर परिसर में भंडारा शुरू हुआ। जिसमें नगर सहित आसपास से बड़ी संख्या में सांई भक्त भंडारे का लाभ लेने पहुंचे। शाम तक भंडारा चलता रहा। इस दौरान समिति सदस्याें ने भोजन परोसने में सेवा दी। शाम तक भंडारा चलता रहा। बुधवार रात सांई मंदिर परिसर में भजन संध्या का आयोजन हुआ। जिसमें देर रात तक भजनों पर श्रोता झूमे। साईं भजनों ने समा बांध दिया। जिससे पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया।

पालकी यात्रा का रास्तेभर विभिन्न संगठनों ने स्वागत किया।

रोशनी से नहाया मंदिर, आज भी होंगे आयोजन

मंदिर में तीन दिवसीय महोत्सव मनाया जा रहा है। इसके तहत मंदिर पर विशेष विद्युत सज्जा की गई है। मंदिर में 27 जुलाई को भी विभिन्न कार्यक्रम होंगे। इसके तहत प्रात: 5.30 बजे कांकड़ आरती व अभिषेक किया जाएगा। साढ़े 7 बजे मंगला आरती होगी। प्रात: 6 बजे से नवकुंडी यज्ञ होगा। जिसकी पूर्णाहुति 10 बजे होगी। प्रात: 11 बजे महाआरती व महाप्रसादी का वितरण किया जाएगा।

गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत
X
गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत
गुरुपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर निकली साईं पालकी, रास्तेभर हुआ स्वागत
COMMENT