Hindi News »Madhya Pradesh »Jhabua» जुलूस परमिशन लेने लिए नहीं जाना पड़ेगा 85 किमी दूर

जुलूस परमिशन लेने लिए नहीं जाना पड़ेगा 85 किमी दूर

रामा तहसील के 125 गांवों के लोगों को बड़ी राहत मिली है। तहसील को पेटलावद अनुभाग से हटा कर झाबुआ में शामिल कर दिया गया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 04, 2018, 03:30 AM IST

रामा तहसील के 125 गांवों के लोगों को बड़ी राहत मिली है। तहसील को पेटलावद अनुभाग से हटा कर झाबुआ में शामिल कर दिया गया है। इससे अब लोगों को जुलूस के लिए एसडीएम से परमिशन लेने जैसे कामों के लिए 85 से 100 किमी दूर तक नहीं जाना पड़ेगा। कलेक्टर आशीष सक्सेना ने गुरुवार शाम रामा तहसील को पेटलावद से हटा कर झाबुआ में शामिल करने का आदेश जारी किया। इसके बाद राहत महसूस करने वाले गांवों के कई लोग शुक्रवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और कलेक्टर का आभार माना। उन्हें मिठाई भी खिलाई।

राहत

रामा तहसील के 125 गांव पेटलावद अनुभाग से हटा कर झाबुआ में शामिल

ऐसी परेशानियां उठा रहे थे लोग

नवापाड़ा के सरपंच शेखू रावत ने बताया हनुमान जयंती पर जुलूस निकालने के लिए एसडीएम की परमिशन के लिए 85 किमी दूर पेटलावद जाना पड़ा। जबकि झाबुआ 25 किमी ही पड़ता है।

दौलतपुरा के राजू बूचा ने बताया जमीन की खरीदी-बिक्री के लिए बार-बार गांव से 80 किमी दूर पेटलावद के बार-बार चक्कर लगाने पड़े।

पारा निवासी शुभम सोनी ने बताया बंदूक के लाइसेंस के लिए मुझे तीन बार 80 किमी दूर पेटलावद जाना पड़ा। जबकि झाबुआ पारा से मात्र 20 किमी दूर है।

पिथनपुर निवासी दिलीप डावर ने बताया बच्चों के जाति प्रमाण पत्र के लिए भी मैं 100 किमी दूर पेटलावद गया।

धन्यवाद देने पहुंचे तो किसी ने राहत दिलाने का दावा

पारा व आसपास के 37 गांवों को राहत मिलने से जनपद सदस्य गजेंद्रसिंह राठौर, मंडल अध्यक्ष ओंकारसिंह डामोर समेत भाजपाई कलेक्टर सक्सेना को धन्यवाद देने पहुंचे। राठौर ने बताया-जनता की समस्या प्रशासन को बताई, जिसे गंभीरता से लिया गया और समस्या हल हुई। उधर, पेटलावद विधायक निर्मला भूरिया के समर्थकों का कहना है-रामा तहसील के ग्रामीणों ने उन्हें समस्या बताई थी, जिसके चलते विधायक ने प्रशासन को पत्र लिखा, जिससे समस्या हल हुई।

अब 831 में से 360 गांव झाबुआ अनुभाग में

जिले में कुल चार अनुभाग हैं। मेघनगर और थांदला में एक-एक तहसील ही हैं। रामा के अलग होने से पेटलावद भी एक ही तहसील का अनुभाग रह गया है। झाबुआ में रामा, झाबुआ और राणापुर तीन तहसीलें हो गई हैं। रामा में 125, झाबुआ में 139 और राणापुर में 96 गांव हैं। यानी पूरे जिले के 831 राजस्व ग्राम में से 360 झाबुआ में हो गए हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhabua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×