Hindi News »Madhya Pradesh »Jhabua» 24 घंटे बिजली मिलने से ग्रामीण लालटेन व चिमनी को भूल गए : विधायक

24 घंटे बिजली मिलने से ग्रामीण लालटेन व चिमनी को भूल गए : विधायक

भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर जिले में कुल 2 लाख 80 हजार हेक्टेयर जमीन है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2003 में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 03:40 AM IST

24 घंटे बिजली मिलने से ग्रामीण लालटेन व चिमनी को भूल गए : विधायक
भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर

जिले में कुल 2 लाख 80 हजार हेक्टेयर जमीन है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2003 में गर्मी के दौरान सिर्फ 11 हजार हेक्टयेर जमीन सिंचित होती थी। भाजपा सरकार के प्रयास से अब गर्मी के दिनों में 60 हजार हेक्टेयर भूमि सिंचित हो रही है। 2,280 करोड़ की लागत वाली नर्मदा उद्वहन सिंचाई योजना का काम शुरू हो चुका है। जिससे जिले में एक लाख हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। आज 24 घंटे बिजली मिलने से ग्रामीण लालटेन और चिमनी को भूल गए हैं।

यह बात विधायक नागरसिंह चौहान ने मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना अंतर्गत किसान सम्मेलन एवं उत्पादकता प्रोत्साहन राशि वितरण समारोह के दौरान कृषि उपज मंडी में किसानों से कही। कार्यक्रम में कलेक्टर गणेश शंकर मिश्रा और कृषि वैज्ञानिक मौजूद थे। कार्यक्रम में रबी फसल 2016-17 में उपार्जित गेहूं उपज पर 200 रुपए प्रति क्विंटल उत्पादकता प्रोत्साहन राशि वितरण के प्रमाण-पत्र दिए गए। जिले में 836 किसानों को 51 लाख 26 हजार 100 रुपए की राशि खातों में ऑनलाइन प्रदान की गई। कृषि विज्ञान केंद्र झाबुआ व आलीराजपुर के वैज्ञानिक डाॅ. जगदीश मौर्य व डाॅ. नरेंद्र कुमावत ने आधुनिक कृषि और बारीकियों की जानकारी दी। संचालन आरआर खोड़े ने किया। आभार आत्मा उपसंचालक डीएस मौर्य ने माना।

मुख्यमंत्री के भाषण का लाइव टेलीकास्ट हुआ

कार्यक्रम के दौरान शाजापुर जिले में आयोजित कार्यक्रम को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने संबोधन किया। जिसे जिले के किसानों ने लाइव प्रसारण के माध्यम से सुना और देखा।

आयोजन

मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में 836 किसानों को उत्पादकता प्रोत्साहन राशि के रूप में 51 लाख रुपए से अधिक राशि दी

कृषि उपज मंडी में कार्यक्रम में मौजूद अतिथि और मौजूद किसान। लेकिन बीच में कुर्सियां रही खाली।

कार्यक्रम में कम संख्या में पहुंचे किसान, मुख्य और विशेष व विशिष्ट अतिथि भी नहीं पहुंचे

कार्यक्रम में बड़ी संख्या में किसानों के पहुंचने का अनुमान था। कृषि विभाग द्वारा बड़ी संख्या में कुर्सियां मंगवाई गई थी। लेकिन कम संख्या में किसान पहुंचे थे। मंडी के टीन शेड में लगाई गई अधिकांश कुर्सियां खाली ही नजर और उसके पीछे कुर्सियों की चार-पांच थप्पियां आयोजकों द्वारा खोली ही नहीं गई थी। हालांकि प्रांगण में लगे टेंट में किसानों की पर्याप्त उपस्थिति थी। वहीं कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष अनिता चौहान, विशेष अतिथि विधायक माधौसिंह डावर, विशिष्ट अतिथि मंडी अध्यक्ष आजमसिंह अवास्या व देवेंद्र श्रीवास्तव, जनपद अध्यक्ष सुनीता चौहान, जिला पंचायत के कृषि समिति अध्यक्ष अमनसिंह भिंडे और भाजपा जिलाध्यक्ष राकेश अग्रवाल भी नहीं पहुंचे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhabua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×