Hindi News »Madhya Pradesh »Jhabua» अगस्त शुरू हाेते बुध हुअा अस्त, शुक्र का कन्या राशि में प्रवेश

अगस्त शुरू हाेते बुध हुअा अस्त, शुक्र का कन्या राशि में प्रवेश

शुक्र ग्रह सिंह राशि से अपनी नीच राशि कन्या में अगस्त माह शुरू होते ही प्रवेश कर गया है। इसके साथ ही कर्क राशि में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 08, 2018, 03:46 AM IST

  • अगस्त शुरू हाेते बुध हुअा अस्त, शुक्र का कन्या राशि में प्रवेश
    +2और स्लाइड देखें
    शुक्र ग्रह सिंह राशि से अपनी नीच राशि कन्या में अगस्त माह शुरू होते ही प्रवेश कर गया है। इसके साथ ही कर्क राशि में स्थित बुध अस्त हो गया। बुध ग्रह के अस्त होने और शुक्र के कन्या राशि में पहुंचने से व्यापार अाैर मौसम की दृष्टि से बड़े परिवर्तन आएंगे। कहीं-कहीं पर अति वृष्टि के कारण महंगाई में वृद्धि होगी। खाद्य सामग्री और सब्जियां महंगी होंगी। शिक्षा जगत में रोजगार के नए अवसर बनेंगे।

    पंडित विश्वनाथ शुक्ल के अनुसार अगस्त माह शुरू होते ही बुध ग्रह कर्क राशि में स्थित रहते हुए पश्चिम दिशा में अस्त हो गया है। इसके साथ ही शुक्र ग्रह अपनी शत्रु राशि सिंह से अपनी नीच राशि कन्या में प्रवेश कर गया। यहां यह एक माह रहेंगे। इसके कारण कहीं-कहीं पर प्राकृतिक प्रकोप के चलते महंगाई बढ़ेगी, जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त रहेगा। पंडित विजेंद्र व्यास ने बताया कि शुक्र ग्रह एक ब्राह्मण ग्रह है। जब ब्राह्मण ग्रह नीच का होता है तो विभिन्न प्रकार के फल देता है। शुक्र ग्रह ऐश्वर्य, वैभव और विलासितापूर्ण जीवन का प्रतीक है। शुक्र ग्रह स्त्री व संतान सुख, कला, सौंदर्य प्रदान करने वाला है।

    बुध ग्रह कर्क राशि में स्थित रहते हुए सुबह 11 बजे पश्चिम दिशा में हो जाएगा अस्त, ग्रहों के अनुसार पूजे देवताओं को

    भगवान शिव का अभिषेक करने से दूर होंगे कष्ट

    पंडित शुक्ल ने बताया कि जिन जातकों की राशि में कष्ट है वे माता और बहन से आशीर्वाद लें। तुलसी पर दीपक जलाएं, गाय को हरी घास खिलाएं और शिव का अभिषेक करने से लाभ होगा।

    भास्कर संवाददाता | झाबुआ

    शुक्र ग्रह सिंह राशि से अपनी नीच राशि कन्या में अगस्त माह शुरू होते ही प्रवेश कर गया है। इसके साथ ही कर्क राशि में स्थित बुध अस्त हो गया। बुध ग्रह के अस्त होने और शुक्र के कन्या राशि में पहुंचने से व्यापार अाैर मौसम की दृष्टि से बड़े परिवर्तन आएंगे। कहीं-कहीं पर अति वृष्टि के कारण महंगाई में वृद्धि होगी। खाद्य सामग्री और सब्जियां महंगी होंगी। शिक्षा जगत में रोजगार के नए अवसर बनेंगे।

    पंडित विश्वनाथ शुक्ल के अनुसार अगस्त माह शुरू होते ही बुध ग्रह कर्क राशि में स्थित रहते हुए पश्चिम दिशा में अस्त हो गया है। इसके साथ ही शुक्र ग्रह अपनी शत्रु राशि सिंह से अपनी नीच राशि कन्या में प्रवेश कर गया। यहां यह एक माह रहेंगे। इसके कारण कहीं-कहीं पर प्राकृतिक प्रकोप के चलते महंगाई बढ़ेगी, जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त रहेगा। पंडित विजेंद्र व्यास ने बताया कि शुक्र ग्रह एक ब्राह्मण ग्रह है। जब ब्राह्मण ग्रह नीच का होता है तो विभिन्न प्रकार के फल देता है। शुक्र ग्रह ऐश्वर्य, वैभव और विलासितापूर्ण जीवन का प्रतीक है। शुक्र ग्रह स्त्री व संतान सुख, कला, सौंदर्य प्रदान करने वाला है।

    संचार और त्वचा का कारक है बुध

    संचार और त्वचा का कारक कहा जाता है। बुध एक शुभ ग्रह है लेकिन क्रूर ग्रह के संगम से यह अशुभ फल देता है। बुध ग्रह शांति के लिए कई उपाय हैं। इनमें बुध यंत्र की स्थापनाएं बुधवार का व्रत, बुधवार को भगवान विष्णु का पूजन और विधारा की जड़ धारण करना आदि प्रमुख उपाय हैं। कुंडली में बुध की खराब स्थिति से त्वचा संबंधी विकार, शिक्षा में एकाग्रता की कमी, गणित विषय में कमजोरी और लेखन कार्य में परेशानी आती है। वहीं बुध के शुभ प्रभाव से बुद्धि, व्यापार, संचार और शिक्षा में उन्नति मिलती है।

    शुक्र ग्रह को करें प्रसन्न

    सफेद कपड़ों का अधिक से अधिक इस्तेमाल करें। सफेद शुक्र और चंद्र दोनों से जुड़ा होता है, डेली लाइफ में इसका इस्तेमाल आपका शुक्र शांत रखेगा और आपको आपकी खूबसूरती के लिए हर किसी से तारीफें मिलेंगी। इलायची के पानी से स्नान करें। थोड़े से पानी में बड़ी इलायची उबाल लें। इसे ठंडा करके अपने नहाने के पानी में मिलाएं और आखिरी बार इससे स्नान करें।

    विभिन्न राशियों पर यह होगा प्रभाव

    Áमेष:
    शत्रु से चिंता।

    Á वृषभ: संतान को कष्ट।

    Á मिथुन: माता के स्वास्थ्य में कमी।

    Á कर्क: मित्र पक्ष पर व्यय।

    Á सिंह: गले से संबंधित पीढ़ा।

    Á कन्या: विलासिता से हानि।

    Á तुला: आंखों से संबंधित पीड़ा।

    Á वृश्चिक: गुप्त रूप से लाभ।

    Á धनु: संपत्ति में वृद्धि।

    Á मकर: भाग्य में कमी।

    Á कुंभ: आकस्मिक कष्ट।

    Á मीन: जीवन साथी को कष्ट।

    Á बुध: ग्रह की शांति के लिए यह करें उपाय

  • अगस्त शुरू हाेते बुध हुअा अस्त, शुक्र का कन्या राशि में प्रवेश
    +2और स्लाइड देखें
  • अगस्त शुरू हाेते बुध हुअा अस्त, शुक्र का कन्या राशि में प्रवेश
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhabua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×