--Advertisement--

प्रशिक्षण का बहिष्कार कर शिक्षकों का धरना

भास्कर संवाददाता | झाबुआ/राणापुर शिक्षकों को एम. शिक्षा मित्र एप से 20 जुलाई के बाद से अटेंडेंस लगाना होगी। लेकिन...

Dainik Bhaskar

Jul 18, 2018, 03:50 AM IST
प्रशिक्षण का बहिष्कार कर शिक्षकों का धरना
भास्कर संवाददाता | झाबुआ/राणापुर

शिक्षकों को एम. शिक्षा मित्र एप से 20 जुलाई के बाद से अटेंडेंस लगाना होगी। लेकिन इससे पहले जिले में इसका विरोध शुरू हो गया है। सोमवार को राणापुर में शिक्षकों ने विरोध किया था। जबकि मंगलवार को रामा विकासखंड के पारा में एप को लेकर रखे गए प्रशिक्षण का शिक्षकों ने बहिष्कार कर दिया।

शासकीय उमावि पारा में शिक्षकों का प्रशिक्षण था, लेकिन सुबह साढ़े 10 बजे ही शिक्षकों ने इसका बहिष्कार कर धरना दे दिया। शासकीय शिक्षक-अध्यापक संयुक्त मोर्चा पारा के बैनर तले दोपहर ढाई बजे तक सभी शिक्षक धरने पर बैठे रहे। शिक्षकों ने कहा केवल स्कूल शिक्षा विभाग में एम शिक्षा मित्र एप लागू किया जा रहा है जो कि न्याय संगत नहीं है। इस एप में शिक्षकों के लिए कई प्रकार की समस्याओं से जूझना पड़ेगा। इसके बाद सभी ने रामा बीईओ को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञान सौंप एम. शिक्षा मित्र एप लागू करने के आदेश तुरंत निरस्त करने की मांग की। धरने में संयुक्त मोर्चा के कालूसिंह सोलंकी, दिनेश चौहान, छोटूसिंह डुडवे, दिनेश टांक, मोहनसिंह चौहान, रेणु कछावा, गायत्री पाटीदार, सुनीता डावर आदि मौजूद थी।

वहीं राणापुर में प्रशिक्षण के दूसरे दिन भी शिक्षकों ने बहिष्कार कर दिया। बीआरसी ट्रेनिंग सेंटर पर सुबह 11 बजे से पहली पाली में कुंदनपुर व समोई संकुल के शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जाना थी। शिक्षक नियत समय पर आए भी, पंजीयन भी करवाया। ट्रेनिंग शुरू होने के 15 मिनिट बाद एक एक कर शिक्षक बाहर निकलना शुरू हो गए। सबने नारेबाजी की। दूसरी पाली में कन्या शाला राणापुर व कंजावानी संकुल के शिक्षकों की बारी थी। ये शिक्षक तो ट्रेनिंग सेंटर के अंदर ही नहीं गए बाहर से ही नारेबाजी कर सब शिक्षक लौट गए।

प्रशिक्षण का बहिष्कार कर धरने पर बैठे शिक्षक।

X
प्रशिक्षण का बहिष्कार कर शिक्षकों का धरना
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..