Hindi News »Madhya Pradesh »Jhabua» सिलिकोसिस से हुई थी मौत, परिजनों को 3-3 लाख का मुआवजा देने का आदेश

सिलिकोसिस से हुई थी मौत, परिजनों को 3-3 लाख का मुआवजा देने का आदेश

भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के प्रकरण 04 मई 2006 के अनुसार जिले के सिलिकोसिस बीमारी से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 08, 2018, 04:00 AM IST

भास्कर संवाददाता | आलीराजपुर

राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग के प्रकरण 04 मई 2006 के अनुसार जिले के सिलिकोसिस बीमारी से मृत हितग्राहियों के 120 वारिसानों को मुआवजा 3-3 लाख रुपए देने का आदेश आयोग ने दिया है। राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग की सुनवाई 27 अप्रैल 2018 के बाद कलेक्टर आलीराजपुर को 3 करोड़ 60 लाख रुपए, झाबुआ को 5 करोड़ 1 लाख रुपए, धार को 1 करोड़ 92 लाख रुपए, गुजरात के आणनंद जिले को 1 करोड़ 83 लाख रुपए, दाहोद को 1 करोड़ 24 लाख रु. राशि का राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने आदेश दिया है। इससे पहले 23 अगस्त 2016 को सुप्रीम कोर्ट के प्रकरण के अनुसार 238 लोगों को 3-3 लाख रु. का मुआवजा झाबुआ, धार एवं आलीराजपुर के सिलिकोसिस के परिवारजनों को दिया था। खेडूत मजदूर चेतना संगठन कार्यकर्ता शंकरभाई तड़वाल, मगनसिंह कलेश एवं जुवानसिंह, इडलसिंह ने सिलिकोसिस की गंभीर बीमारी की समस्या को लेकर 21 जुलाई 2007 को राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग में याचिका दायर की थी। आयोग के निर्णय के बाद न्याय मिल रहा है। राशि वितरण के लिए कलेक्टर ने मृतक से संबंधित गांव के पटवारियों को निर्देशित कर मृतकों के वैध उत्तराधिकारी की सूची, बैंक खाता क्रमांक एवं अाईएफएससी कोड़ की जानकारी, जांच प्रतिवेदन-प्रकरण तैयार कर एसडीएम व तहसीलदार को उपलब्ध कराने का आदेश दिया है। जिससे मृतक के आश्रितों को मुआवजा राशि का भुगतान कर गुजरात सरकार को अवगत कराया जा सकें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhabua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×