झाबुआ

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Jhabua News
  • नाराजगी जाने बिना जाने लगे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तो कार्यकर्ताओं ने कार रोकी और रखा अपना पक्ष
--Advertisement--

नाराजगी जाने बिना जाने लगे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तो कार्यकर्ताओं ने कार रोकी और रखा अपना पक्ष

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेशसिंह रविवार को झाबुआ के प्रथम प्रवास पर आए। थांदला से आए कार्यकर्ताओं की नाराजगी जाने...

Dainik Bhaskar

Jul 09, 2018, 04:00 AM IST
नाराजगी जाने बिना जाने लगे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तो कार्यकर्ताओं ने कार रोकी और रखा अपना पक्ष
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेशसिंह रविवार को झाबुआ के प्रथम प्रवास पर आए। थांदला से आए कार्यकर्ताओं की नाराजगी जाने बिना जाने लगे तो कार्यकर्ताओं ने उनकी कार रोकी। जब कार्यकर्ता अपनी बात बताने लगे तो उन्होंने किसी का भी नाम सुनने से भी इंकार कर दिया और कहा कि बस अपना पक्ष रखो।

हुआ यूं कि थांदला से भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ निर्दलीय लड़ कर विधायक बने कलसिंह भाबर को पार्टी के कार्यक्रमों में बुलाने और उन्हें अगले विधानसभा चुनाव में टिकट मिलने की अटकलों के चलते बड़ी संख्या में नाराज कार्यकर्ता झाबुआ आए थे। वे बैठक स्थल पर करीब दो घंटे तक प्रदेशाध्यक्ष का इंतजार करते रहे। जैसे ही आलीराजपुर जाने के लिए प्रदेशाध्यक्ष की कार बाहर आई, कार्यकर्ता उनके सामने आ गए। कर रोक ली। सिंह बाहर निकले और कहा-कोई भी बात रखना है, किसी का नाम लिए बिना रखाे। तभी नाराज कार्यकर्ता आक्रोशित होकर कहने लगे-कलसिंह भाई ने हमें धोखा दिया है। प्रदेशाध्यक्ष बोले-किसी का नाम नहीं लेना है। कार्यकर्ता बोले-नाम तो लेना पड़ेगा।

प्रदेशाध्यक्ष ने कहा-नाम लोगे तो मैं बात नहीं सुनूंगा। आप नाम लिए बिना अपने पक्ष की बात संगठन तक पहुंचाओ। कार्यकर्ता बोले-लेकिन यहां के संगठन के लोग..। कार्यकर्ता की बात बीच में ही रोकते हुए प्रदेशाध्यक्ष बोले-अो भैया, संगठन मुझे मालूम है। आप आपके पक्ष की बात बिना किसी का नाम लिए करो। आप सभी भाजपा के कार्यकर्ता हैं न तो बोलाे भारत माता की जय। इतना कहते ही कार्यकर्ताओं ने नारे लगाए। फिर प्रदेशाध्यक्ष बोले-चलो इनका एक फोटो करवाओ। नाराज कार्यकर्ताओं के साथ फोटो खिंचवा कर वे आलीराजपुर की ओर रवाना हो गए।

प्रेसवार्ता में निर्दलीय लड़ कर जीतने वाले को टिकट देने के सवाल पर प्रदेशाध्यक्ष राकेशसिंह ने कहा-पार्टी आदर्श कार्यकर्ता और जीतने वाले उम्मीदवार को टिकट देगी। इसके लिए सर्वे करा कर ऐसे उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा। दिग्विजयसिंह के आरएसएस को लेकर दिए बयान को लेकर प्रदेशाध्यक्ष राकेशसिंह ने कहा-दिग्विजयसिंह के बयान पर कोई टिप्पणी करने की जरूरत मैं नहीं समझता। हम तो चाहेंगे कि जितनी जल्दी हो सके, वे पूरे प्रदेश का दौरा करें और उन्हें जो कहना वह कहें, ताकि जनता उन्हें चुनाव में जवाब दे सके।

थांदला विधानसभा से आए कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह का रास्ता रोककर रखी अपनी बात।

सर्किट हाऊस में बैठक में कहा-हमें गर्व होना चाहिए कि हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं

दोपहर 12 बजे सर्किट हाऊस पर रैली के रूप में प्रदेशाध्यक्ष पहुंचे। यहां उन्होंने जिला पदािधकारी और विधानसभा क्षेत्र के पदािधकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक ली। उन्होंने कहा-हमें गर्व होना चाहिए कि हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं। प्रदेशाध्यक्ष ने मोदी व शिवराज सरकार की उपलब्धियां गिनाई। कहा-भाजपा ही एेसी पार्टी है, जहां मेरे जैसे आम कार्यकर्ता को इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। एक आम कार्यकर्ता को देश का प्रधानमंत्री बना दिया। नहीं तो कांग्रेस में तो इंदिरा गांधी के बाद राजीव, उनके बाद सोनिया, फिर राहुल गांधी और पता नहीं आने वाले गांधी का भी कुछ नाम सोच लिया हो।

बैठक में तीनाें विधायक शांतिलाल बिलवाल, निर्मला भूरिया, कलसिंह भाबर, जिलाध्यक्ष मनोहर सेठिया, पूर्व जिलाध्यक्ष शैलेष दुबे, दौलत भावसार, सीसीबी अध्यक्ष गौरसिंह वसुनिया, संभागीय संगठन मंत्री जयपालसिंह चावड़ा आदि उपस्थित थे।

X
नाराजगी जाने बिना जाने लगे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तो कार्यकर्ताओं ने कार रोकी और रखा अपना पक्ष
Click to listen..