Hindi News »Madhya Pradesh »Jhabua» अब 31 अगस्त तक आयकर रिटर्न भर सकेंगे करदाता

अब 31 अगस्त तक आयकर रिटर्न भर सकेंगे करदाता

पोर्टल की परेशानी के चलते आगे बढ़ाई तिथि भास्कर संवाददात | झाबुआ करदाताओं की परेशानी को महसूस करते हुए आयकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 01, 2018, 04:00 AM IST

पोर्टल की परेशानी के चलते आगे बढ़ाई तिथि

भास्कर संवाददात | झाबुआ

करदाताओं की परेशानी को महसूस करते हुए आयकर विभाग ने रिटर्न फाइल करने की तिथि को बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी है। पहले यह काम 31 जुलाई तक पूरा करना था। लेकिन विभाग का सर्वर डाउन होने के कारण व्यापारी व कर्मचारी अपना रिटर्न दाखिल नहीं कर पा रहे थे। समस्या यह थी कि अंतिम तिथि तक रिटर्न जमा न करने की दशा में करदाता पर 10 हजार रुपए तक की पेनाल्टी लग सकती थी। रिटर्न दाखिल करने की तारीख आयकर विभाग ने इसलिए बढ़ाई है क्योंकि तीन दिन से विभाग का पोर्टल करदाताओं के लिए नहीं खुल रहा था। इस कारण करदाता अपना रिटर्न दाखिल नहीं कर पा रहे थे।

जिन करदाताओं ने रिटर्न जमा कर दिए थे उनके टैक्स पोर्टल पर प्रदर्शित नहीं हो पा रहे थे। यह शिकायत जब आयकर विभाग के आला अफसरों के ध्यान में आई तो अंतिम तिथि को एक महीने और आगे बढ़ा दिया गया है। सर्वर डाउन होने से लोग अपना आधार नंबर लिंक नहीं करा पा रहे हैं। ज्यादा परेशानी उन लोगों को है जो शहर से बाहर कार्यरत हैं और अपने स्थानीय वकील या सलाहकार से रिटर्न की ई-फाइलिंग करना चाहते हैं। पोर्टल ठप होने की स्थिति में उन्हें मैन्युअल रिटर्न जमा करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। मैन्युअल रिटर्न जमा करने में समय खराब होता है।

पहले 31 जुलाई तक रिटर्न दाखिल करने का समय दिया गया था, अब एक महीने बढ़ाया गया

सर्वर और नेट की परेशानी से नहीं मिल रहा ओटीपी

सर्वर और नेट की परेशानी की वजह से जब उपभोक्ता का फार्म टैक्स फाइल के लिए भरा जाता है तो नेट से आधार लिंक करने के लिए उपभोक्ता के मोबाइल पर ओटीपी नंबर आता है, जिसे बताने के बाद ओटीपी फीड करने के बाद ही टैक्स फाइल होता है। पर ओटीपी के नंबर भी इस दौरान मोबाइल पर नहीं आ रहे जिससे उपभोक्ताओं की परेशानी बढ़ी है।

लिपिकों की हड़ताल का भी हो रहा असर

इन दिनों लिपिकों की भी हड़ताल चल रही है। दरअसल इन कर्मचारियों के द्वारा ही अपने सीनियर अधिकारी और सहकर्मियों के टीडीएस संबंधी ब्यौरा का लेखा- जोखा रखा जाता है। इनके नहीं होने के कारण संबंधित कार्यालय के वेतन संवितरण अधिकारी टीडीएस कटौत्रा की ई-फाइलिंग नहीं कर पा रहे हैं। इसका खामियाजा संबंधित कर्मचारी के रिटर्न में रिबेट नहीं मिलने या फिर गलत ब्योरा देकर पेनाल्टी देने के रूप में सामने आ सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhabua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×