झाबुआ

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Jhabua News
  • सामने के 2 गेट बंद, जिस गेट से रखा प्रवेश उससे आने के लिए चलना होगा रांग साइड
--Advertisement--

सामने के 2 गेट बंद, जिस गेट से रखा प्रवेश उससे आने के लिए चलना होगा रांग साइड

कलेक्टर के आदेश पर रविवार को जिला अस्पताल के सामने के दोनों मुख्य गेट बंद कर दिए। सूचना लगा दी गई कि सज्जन रोड वाले...

Dainik Bhaskar

Jul 02, 2018, 04:10 AM IST
सामने के 2 गेट बंद, जिस गेट से रखा प्रवेश उससे आने के लिए चलना होगा रांग साइड
कलेक्टर के आदेश पर रविवार को जिला अस्पताल के सामने के दोनों मुख्य गेट बंद कर दिए। सूचना लगा दी गई कि सज्जन रोड वाले गेट से आएं। हैरानी की बात यह है कि सज्जन रोड वाले जिस रास्ते से प्रवेश के लिए कहा है वहां सामने डिवाइडर है। बस स्टैंड की ओर से जिला अस्पताल में जाने के लिए वाहनों को रांग साइड चलाना पड़ेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि सज्जन रोड के डिवाइडर में ब्रेकअप उत्कृष्ट मैदान में जाने के लिए घाटी पर बना है। वह गेट से काफी दूर है। यदि सही साइड से चलते हुए इस ब्रेकअप से वाहन का U टर्न लेने की कोशिश भी की जाए तो घाटी पर चढ़ाई खड़ी होने और सड़क की चौड़ाई कम होने से वाहन पलटने का खतरा है। एंबुलेंस को मुख्य गेट से लाने की व्यवस्था रखी है पर यहां बंद गेट के बाहर बाइक खड़ी हो रही हैं। ऐसे में यदि एंबुलेंस को भी सज्जन रोड से लाना होगा तो या तो रांग साइड से लाना होगा। अन्यथा उत्कृष्ट विद्यालय मैदान की आेर जाने के लिए बने डिवाइडर के ब्रेकअप से U टर्न लेने पर एंबुलेंस पलटने का खतरा रहेगा।

पहले ही दिन 108 फंसी, मुख्यालय में दी सूचना

रविवार को एक केस लेकर एंबुलेंस पहुंची तो अस्पताल के बंद पड़े मुख्य द्वार के बाहर बाइकें खड़ी थीं। 108 एंबुलेंस को सज्जन रोड से ले जाना पड़ा। डिवाइडर के कारण एंबुलेंस रांग साइड चली और अस्पताल के पिछले गेट में जाने के लिए टर्न लेने में भी दिक्कत आई। स्टाफ का कहना है कि इमरजेंसी में 1-1 मिनट कीमती होता है। नई व्यवस्था से अस्पताल जाने में समय ज्यादा लग रहा है। इसकी शिकायत स्टाफ ने 108 एंबुलेंस के मुख्यालय पर की है।

ड्रोन से लिए गए फोटो से समझिए नयी व्यवस्था से कैसे बढ़ गई है उलझन

गेट नंबर 3

यह गेट पहले से बंद है लेकिन अब इसे भी हमेशा बंद रखा जाएगा। यहां भी गेट के बाहर बाइक खड़ी हो रही हैं।

पिछला गेट जहां से

वाहन आएंगे। यहां सामने ही डिवाइडर है। डिवाइडर बीच में से तोड़ा नहीं जाता है तो वाहन रांग साइड चलेंगे।

बाइक हटवाने की व्यवस्था करेंगे


गेट नंबर 2

यह मुख्य गेट है जो रविवार को बंद किया। गेट के बाहर बाइक खड़ी हो रही हैं, जिससे एंबुलेंस तत्काल नहीं जा पाएगी।

ड्रोन से अंकित जैन द्वारा लिया गया फोटो।

सुधार के लिए प्रयोग किया है


गेट नंबर 1

X
सामने के 2 गेट बंद, जिस गेट से रखा प्रवेश उससे आने के लिए चलना होगा रांग साइड
Click to listen..